पटना. राजद नेता तेजस्वी यादव ने गुरुवार को ट्वीट कर एनआरसी मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर साम्प्रदायिक रंग दिखाने का आरोप लगाया। एक के बाद एक तीन ट्वीट कर तेजस्वी ने कहा कि एनपीआर एनआरसी की पहली सीढ़ी है।
तेजस्वी ने ट्वीट किया कि नीतीश कुमार जनता को सच नहीं बताने वाले। उन्होंने अपने नेताओं व सिपहसालारों को सीएए, एनआरसी और एनपीआर पर विरोधी सुर में बयानबाजी करने का आदेश दिया हुआ है।
ट्वीट में तेजस्वी ने सवाल पूछा है कि क्या नीतीश कुमार नहीं जानते कि इस बार एनपीआर ही एनआरसी की पहली सीढ़ी बनकर आया है, जिसकी बिहार में अधिसूचना वह खुद जारी कर चुके हैं? क्या नीतीश जी यह भी नहीं जानते कि अमित शाह ने बार-बार कहा है कि एनपीआर ही एनआरसी का प्रथम चरण है और इससे उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर ही एनआरसी होगा?


तेजस्वी ने ट्वीट किया कि नीतीश अब कहने लगे है कि एनआरसी को बिहार में लागू नहीं करेंगे। क्या नीतीश नहीं जानते कि जो उनके हाथ में था वहां तो उन्होंने सीएए का समर्थन कर अपना असली संविधान विरोधी साम्प्रदायिक रंग दिखा दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.