जनपथ न्यूज़ कोलकाता: गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने रविवार को कोलकाता में एक रैली को संबोधित किया. शहीद मीनार मैदान में आयोजित इस रैली में भारतीय जनता पार्टी (BJP) का झंडा लिए कुछ लोग पहुंचे और ”गोली मारो…” की नारेबाजी शुरू कर दी. इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है.
इस पूरे मामले पर कोलकाता पुलिस का कहना है कि शहर में कानून व्यवस्था को खराब करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. गिरफ्तार लोगों में सुरेंद्र तिवारी (55), ध्रुब बसु (71) और पंकज प्रसाद शामिल हैं. पुलिस ने बताया कि रैली में ”गोली मारो…” की नारेबाजी की शिकायत मिली थी जिसके बाद कार्रवाई करते हुए तीन लोगों के खिलाफ IPC की धाराओं 505, 506, 34, 153A के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.
उधर, इस पूरे मामले ने राजनीतिक रूप ले लिया है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि यह दिल्ली नहीं है कोलकाता है. हम यहां ”गोली मारो…” जैसे नारे बर्दाश्त नहीं करेंगे.
आपको बता दें कि कोलकाता रैली में अमित शाह ने टीएमसी पर जमकर निशाना साधा, वहीं एक बार फिर सीएए को सही ठहराया. पढ़ें उनके भाषण की प्रमुख बातें
अमित शाह ने कहा, ‘हम जब बंगाल में चुनाव के मैदान में थे तो ममता दीदी कहती थीं जमानत बचा लेना. ममता जी ये आंकड़े देख लीजिए, अब आने वाले विधानसभा चुनाव में भी पूर्ण बहुमत के साथ भाजपा (bjp) की सरकार बंगाल में बनने वाली है.’ मोदी जी जब सीएए लोकर आए तो सारे विपक्षी विरोध में आ गए. सीएए से आपकी नागरिकता जाने वाली नहीं है. सीएए नागरिकता देने का कानून है लेने का नहीं.
गृहमंत्री ने कहा, ‘मोदी जी CAA लेकर आए, लाखों बंगालियों को इससे नागरिकता मिलती है. ममता दीदी ने इसका विरोध किया. बंगाल में दंगे कराएं, ट्रेनें जला दी गई, रेलवे स्टेशन जला दिया गया.’ उन्होंने कहा कि मैं सवाल पूछने आया हूं कि हम नागरिकता देना चाहते हैं और आप इसका विरोध क्यों कर रही हो. आपको घुसपैठिए ही अपने लगते हैं. मैं बताने आया हूं कि 70 साल से जो शरणार्थी यहां आए हैं हम उनको नागरिकता देकर रहेंगे.
शाह ने कहा कि मोदी जी ने विकास के साथ-साथ देश के सम्मान और सुरक्षा से जुड़े कई फैसले किए. आप सब चाहते थे कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बने 5 अगस्त को संसद में धारा 370 समाप्त कर दिया गया. आपका आशीर्वाद मिला और मोदी जी ने राम मंदिर निर्माण के काम को आगे बढ़ाने का काम किया. कुछ ही महीनों में आसमान को छूने वाला भव्य राम मंदिर बनने वाला है. ममता दीदी ने केंद्र के 6 हजार करोड़ रुपये को राज्य के गरीब किसानों तक नहीं पहुंचने दिया. ममता दीदी आप क्यों किसानों के लिए मुश्किलें खड़ी कर रही हो.
गृह मंत्री ने कहा कि बंगाल में हमें यात्रा करने की अनुमति नहीं दी गई. हजारों कार्यकर्ताओं पर गोलियां चलाई गईं. गलत मुकदमें दर्ज कराए गए. 40 से ज्यादा कार्यकर्ताओं की जान चली गई लेकिन ममता दीदी हमें रोक नहीं पाई. ममता सरकार ने पीएम मोदी को बंगाल का विकास करने नहीं दिया. आपने कम्युनिस्टों को 2 दशक तक मौका दिया और मतता दीदी को 10 साल तक, क्या इन्होंने विकास किया, नहीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.