जनपथ न्यूज़ पटना. चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर एनडीए विरोधी सभी दलों को एक साथ लाने की कोशिश कर रहे हैं। इसी क्रम में गुरुवार देर रात उन्होंने दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में ‘हम’ के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी, रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा और वीआईपी के नेता मुकेश सहनी से बात की।
दो से ढाई घंटे तक चली बैठक में तीनों नेताओं ने प्रशांत से आग्रह किया कि वाम दलों, जाप समेत एनडीए विरोधी सभी दलों को एक प्लेटफार्म पर लाने की कोशिश करें। तेजस्वी यादव और कांग्रेस नेताओं से भी प्रशांत इस संबंध में वन-टू-वन बात करें।
‘बात बिहार की’कार्यक्रम से पहले दिन जुड़े 60 हजार नए लोग
प्रशांत किशोर ने गुरुवार को ‘बात बिहार की’ कार्यक्रम लांच कर दिया। अभियान शुरू होने के कुछ घंटों के भीतर लगभग 60 हजार नए लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराए। वहीं आई-पैक संस्था के साथ पहले से 2 लाख 93 हजार लोग जुड़े हुए हैं। पटना, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, समस्तीपुर और मधुबनी टॉप पांच जिलों में रहे। दरभंगा और सारण में भी 10-10 हजार से अधिक लोगों से रजिस्ट्रेशन कराया।
नए और पुराने सदस्यों को मिलाकर पटना से 27710 लोग, मुजफ्फरपुर में 14443, मोतिहारी में 11762, समस्तीपुर में 10931 और मधुबनी में 10909 लोगों ने बात बिहार की में अपना रजिस्ट्रेशन कराया। वहीं दरभंगा में 10870, जबकि सारण में 10636 लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। वैसे प्रशांत किशोर ने एक बार फिर यह स्पष्ट कर दिया है कि फिलहाल वह कोई राजनीतिक पार्टी बनाने नहीं जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.