सहरसा पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 24 घंटे के अंदर सहरसा मुखिया हत्याकांड का किया खुलासा…..

न्यूज डेस्क/जनपथ न्यूज
रिपोर्टर :-* विकास कुमार सहरसा (बिहार)
Edited by: राकेश कुमार
अप्रैल 9, 2022

सहरसा: सहरसा पुलिस पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 24 घंटे के अंदर मुखिया हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। एसपी लिपि सिंह ने प्रेस वार्ता में
सहरसा मुखिया की हत्या के मामले में जानकारी देते हुए बताया कि खजुरी रेलवे ढाला पर अज्ञात अपराधियों द्वारा मुखिया रंजीत साह की गोली मार कर हत्या कर दी गयी थी। सूचना मिलते ही पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए खजुरी निवासी रंजीत यादव और लक्ष्मीनिया निवासी दीपक यादव को गिरफ्तार किया गया है। वहीं, अन्य की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

घटना का कारण पूर्व में हुए पंचायत चुनाव का रंजिश बताया जा रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रंजित यादव का संबंध राजद से रहा है।
बता दे कि मुखिया की हत्या के मामले में गिरफ्तार रंजीत यादव पूर्व में खजुरी पंचायत के 2001 से 2005 तक मुखिया रह चुके हैं और साथ ही 1994 से राजद नेता भी था।

बीते विधानसभा चुनाव में राजद से टिकट नहीं मिलने के बाद विधायक का चुनाव निर्दलीय लड़ा था। इसके पिता भी कई वर्षों तक मुखिया रह चुके थे

2019 में हुए विधानसभा चुनाव में राजद के टिकट के दावेदार थे, लेकिन लवली आनंद को टिकट मिलने के बाद रंजीत यादव ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लडा। चुनाव आयोग के द्वारा उन्हें चारपाई चुनाव चिह्न आवंटित किया गया था।

मालूम हो कि खजुरी पंचायत के मुखिया रंजीत कुमार साह की शुक्रवार देर शाम अज्ञात अपराधियों ने सहरसा-पूर्णिया रेलखंड पर खजुरी ढाला के पास गोली मार कर हत्या कर दी थी। इसके बाद जिले के सौरबाजार प्रखंड क्षेत्र की खजुरी पंचायत के मुखिया रंजीत कुमार साह के शव को बैजनाथपुर चौक पर रख ग्रामीणों और परिजनों ने शनिवार की सुबह सभी मार्गों के साथ जाम कर दिया। प्रदर्शनकारी हत्यारे की गिरफ्तारी और मुआवजा दिलाने की मांग कर रहे हैं। बता दे कि रंजीत कुमार यादव, पूर्व मुखिया दीपक यादव एवं जीवन पौदार की मुखिया हत्याकांड में 24 घंटे के अंदर पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

2 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.