मुकेश सहनी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल पर कसा तंज, मुकेश सहनी ने कहा- इस्तीफा नहीं दूंगा

न्यूज डेस्क/जनपथ न्यूज
Edited by: राकेश कुमार
मार्च 24, 2022

पटना: आज यानि गुरुवार को ईको पार्क स्थित सरकारी आवास पर वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी ने प्रेस कांफ्रेंस किया और मीडिया के सामने आए। पीसी में सबकी नजर आज इसपर थी कि अब सहनी का अगला कदम क्या होगा। बीजेपी ने मुकेश सहनी को बुधवार को जो झटका दिया उसकी टीस गुरुवार को उनके चेहरे पर साफ दिख रही थी। मीडिया द्वारा पूछे गए सवाल पर मुकेश सहनी ने एक के बाद एक बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल पर तंज कसना शुरू कर दिया। मुकेश सहनी ने वीआईपी के तीन विधायकों के साथ बीजेपी के 77 विधायकों की संख्या को लेकर नंबर वन बनने पर भी तंज कसा। लेकिन इसी बीच जब सहनी से ये सवाल पूछा गया कि क्या अब वो मंत्रिमंडल से इस्तीफा देंगे तो जो जवाब दिया गया उससे यही लगा कि अभी भी सहनी की आस बरकरार है।

मुकेश सहनी ने इस्तीफा देने से इनकार करते हुए ये कहा कि इसका फैसला मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लेेंगे क्योंकि मंत्रिमंडल में रखना या हटाना उनके हाथ है। ऐसे में अब उनका भविष्य नीतीश ही तय करेंगे। मतलब साफ था कि मुकेश सहनी को अभी भी नीतीश से आस बाकी है, क्योंकि वीआईपी का विधानसभा से पत्ता साफ होने पर जेडीयू ने अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

मुकेश सहनी ने गुरुवार को अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि ‘संजय जायसवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में मेरे ऊपर जो आरोप लगाए बेबुनियाद हैं। जब हमारा गठबंधन बीजेपी के साथ हुआ था उस दौरान हुई डील में कमरे में सिर्फ मुकेश सहनी और अमित शाह ही थे। संजय जायसवाल को तो कमरे के दरवाजे के बाहर खड़े रहने का सौभाग्य तक नहीं मिला।

मुकेश सहनी ने खुद की तुलना चिराग पासवान से की और कहा कि उनके साथ वैसा ही हुआ जैसा चिराग पासवान के साथ हुआ था।

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान मुकेश सहनी ने खुद पर बयान देने के लिए बीजेपी के कई नेताओं पर एक साथ हमला बोला। सहनी ने कहा कि बीजेपी के नेता जो कुछ नैतिकता के आधार पर उनसे इस्तीफा मांग रहे हैं तो उन्हें वो बता देना चाहते हैं कि किसी भी दल को तोड़कर नंबर वन पार्टी बनने वाले लोग नैतिकता की बात न ही करें तो बेहतर है

3 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.