जनपथ न्यूज़ त्रिवेणीगंज (सुपौल). पांच बच्चों की मां से युवक को प्रेम करना काफी महंगा पड़ा। मुखिया और सरपंच ने दोनों को 12 घंटे तक खूंटे से बांध दिया। इस दौरान तीन घंटे तक बेरहमी से पीटा। इतना ही नहीं, युवक से मोबाइल व सात हजार रुपए भी छीन लिए। साथ ही, कोरे कागज पर अंगूठा लगवाकर 11 हजार रुपए जुर्माना भी किया जो 3 जनवरी तक देना है। इसके बाद दोनों को मुक्त कर दिया गया। यह घटना जदिया थाना क्षेत्र के कोरियापट्‌टी पश्चिम पंचायत के एक गांव में मंगलवार की है।
उमेश मंडल का पुत्र प्रमोद कुमार (25 वर्ष) मुर्गा लेकर अपने गांव से महिला के गांव किसी को देने गया था। इसी दौरान वहां पहले से मौजूद लोगों ने उसे पकड़ लिया और एक घर में बंद कर दिया। फिर मुखिया और सरपंच आए और भरी पंचायत में दोनों की पिटाई की। यह सब लोगों के सामने होता रहा और वहां मौजूद लोग वीडियो बनाते रहे। पीड़ित युवक की स्थित काफी गंभीर है। परिजन इस मामले को लेकर पुलिस के पास जाने से भी कतरा रहे हैं और छिपकर किसी ग्रामीण डॉक्टर से इलाज करा रहे है। महिला कहां है इस बारे में किसी को जानकारी नहीं है।
ग्रामीण चिकित्सक से करा रहा है इलाज
युवक का इलाज स्थानीय ग्रामीण चिकित्सक के माध्यम से कराया जा रहा है। पीड़ित युवक ने बताया कि मारपीट के दौरान स्थानीय कुछ लोगों ने ही घटना का वीडियो बना लिया। वीडियो में उसके साथ जिस महिला की पिटाई करते लोग करते दिखाई दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.