तेज प्रताप यादव ने पूछा, ‘संजय यादव कौन हैं, मेरे और तेजस्वी के बीच में आने वाले’
राकेश कुमार
जनपथ न्यूज, पटना
अगस्त 20, 2021
राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटों तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव में टकराव दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है।
तेज प्रताप यादव ने शुक्रवार को खुलकर तेजस्वी यादव के सहयोगी बताए जाने वाले संजय यादव पर आरोप लगाया है कि वो उन्हें तेजस्वी यादव से ना बात करने दे रहे हैं और ना मिलने दे रहे हैं।
मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, “तेजस्वी जी से मेरी बात शुरू ही हुई तो ये संजय यादव ने आकर हमें रोकने का काम किया है। अब तेजस्वी को लेकर चले गए हैं, ये मिलने नहीं दे रहे हैं, बात नहीं करने दे रहे हैं।
दरअसल, विवाद की जड़ राजद की छात्र इकाई के अध्यक्ष पद से जुड़ी हुई है।
राजद की बिहार शाखा के अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कुछ दिनों पहले पटना यूनिवर्सिटी में लॉ की पढ़ाई कर रहे गगन कुमार को अध्यक्ष पद सौंप दिया था।
तेज प्रताप यादव को ये अच्छा नहीं लगा क्योंकि उनके क़रीबी माने जाने वाले आकाश यादव को इस पद से हटाकर गगन कुमार को अध्यक्ष बनाया गया था।
इसके बाद से तेज प्रताप यादव जगदानंद सिंह से लेकर अपने भाई तेजस्वी यादव के प्रति नाराज़गी का खुलकर प्रदर्शन कर रहे हैं।
तेज प्रताप यादव ने कहा था कि जगदानंद सिंह सोचते हैं कि ये उनकी पार्टी है। पार्टी संविधान का पालन नहीं किया गया। हमारे छात्र नेताओं को नोटिस क्यों जारी नहीं किया गया। “तेज प्रताप यादव कौन है”, कहकर हमें ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहे हैं। वह सिर्फ कृष्ण और अर्जुन की जोड़ी तोड़ना चाहते हैं।”
हालाँकि, इसके बाद जगदानंद सिंह ने कहा है, “वह पार्टी संविधान को स्वीकार कर रहे हैं, इससे ज़्यादा अच्छा कुछ नहीं हो सकता। हर समर्पित पार्टी कार्यकर्ता के लिए संविधान नियम और दिशानिर्देश की तरह होते हैं इसका उल्लंघन नहीं किया जा रहा है।

4 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.