जनपथ न्यूज़ नई दिल्ली: शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को लोकसभा (Lok Sabha) में सरकार से कहा कि ‘हिम्मत है तो वीर सावरकर को भारत रत्न दीजिए’ और वह इसका समर्थन करेगी. लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में भाग लेते हुए शिवसेना नेता विनायक राउत ने उस वक्त यह टिप्पणी की जब सत्तापक्ष के कुछ सदस्यों ने उन्हें सावरकर का उल्लेख करने के लिए कहा. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कुछ सदस्यों की टोका-टोकी के बीच राउत ने कहा, ‘हिम्मत है तो आप सावरकर को भारत रत्न दीजिए. हम समर्थन करेंगे.’
राउत ने कहा कि सिर्फ घोषणा से देश शक्तिशाली नहीं बनेगा, बल्कि इसके लिए घोषणाओं पर ज्यादा अमल करना होगा. राउत ने कहा कि राष्ट्रीय नागरिक पंजि (NRC) देश को गुमराह करने के लिए लाया जा रहा है, जबकि देश के सामने बेरोजगारी, महंगाई और महिला सुरक्षा बड़े मुद्दे हैं. उन्होंने यह दावा भी किया कि एनआरसी लाई गई तो देश में 35 करोड़ लोगों को डिटेंशन सेंटर में भेजना पड़ेगा.
चर्चा में भाग लेते हुए वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के मिथुन रेड्डी ने कहा कि NRC की कोई जरूरत नहीं है और नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का जो लोग विरोध कर रहे हैं सरकार को उनकी सुननी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार को राष्ट्रीय जनसंख्या पंजि (NPR) में शामिल कुछ अतिरिक्त प्रश्नों को हटा दिया जाना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.