जनपथ न्यूज़ :- पटना (Patna) एयरपोर्ट (Airport) पर शहीद सीआरपीएफ कांस्टेबल जीडी रमेश रंजन का शव लाया गया. यहाँ उनका राजकीय सम्मान किया गया, सलामी दी गई। शहीद रमेश का शव उनके पैतृक घर आरा ले जाया जायेगा। उन्हें भींगीं आखों से राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जाएगी।
आइजी सीआरपीएफ ने बताया कि आतंकी हमले के समय एक असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर के नेतृत्व में 13 सीआरपीएफ जवान अपने ड्यूटी पर तैनात थे. महानिदेश सीआरीएफ एपी महेश्वरी ने रमेश रंजन को सलामी दी और कहा कि देश की एकता और अखंडता के लिए सर्वस्व न्योछवर करने वाले अपने एक भाई को सलामी देता हूँ. इस दुःख में हम शहीद के परिवार के साथ हैं.
गोली रमेश रंजन के सर में लगी थी बावजूद उन्होंने खुद को संभाला और गोली से एक आतंकी को वहीँ ढ़ेर कर दिया। जान की परवाह छोड़ कर सबकुछ उन्होंने देश की रक्षा में झोंक दिया। इसके बाद उनके साथी भी सचेत हो गए और दो आतंकी को मार गिराया वहीँ एक जख्मी हालात में पकड़ा गया. आतंकी ने अचानक ही जवानों के स्कूटर से उतारते ही फायरिंग शुरू कर दी थी.
शहीद के पिता ने कहा कि मुवावजा नहीं बेटे को परमवीर चक्र दिया जाये। सुचना के बाद भी किसी नेता के नहीं पहुँचे जाने से ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त रहा। रमेश बुधवार को जम्मू कश्मीर में तीन आतंकियों को मार गिराने के बाद शहीद हो गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.