बिहार के मधुबनी जिले में पत्रकार का जला शव बरामद, परिजनों ने नर्सिंग होम संचालकों पर लगाया हत्या का आरोप………

राकेश कुमार/जनपथ न्यूज
नवम्बर 14, 2021

बिहार के मधुबनी जिले में एक पत्रकार की हत्या कर दी गई है। मधुबनी के एक गांव के पास एक 22 वर्षीय पत्रकार और आरटीआई कार्यकर्ता बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा का शव बेनीपट्टी-पुपरी मुख्य पथ एसएच 52 के बगल में उड़ैन गांव के पास शुक्रवार शाम को मिला, जिसे चार दिन पहले अगवा किया गया था। शव को जलाकर सड़क किनारे फेंक दिया गया था। जानकारी के मुताबिक बुद्धिनाथ झा उर्फ ​​अविनाश झा एक स्थानीय समाचार पोर्टल में काम कर रहे थे और इसके साथ ही वे आरटीआई एक्टिविस्ट भी थे।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक 9 नवंबर की रात अपने फोटोथैरेपी क्लिनिक से अचानक गायब हो गए थे। शव की पहचान मृतक के बड़े भाई और मां ने हाथ की अंगुली में पहने अंगूठी, शर्ट के कुछ अंश, मुंह और पैर में तिल के निशान के आधार पर की। बता दे की इस घटना को लेकर इलाके में काफी आक्रोश है। घटना थाना क्षेत्र के महज 300-400 मीटर की दूरी पर हुई है. मृतक युवक का घर भी थाना से महज 400 मीटर की दूरी पर है।

अविनाश के भाई ने बताया 7 नवंबर को अविनाश ने अपने फेसबुक पर एक पोस्ट किया था, उसमें 8-9 क्लीनिक का नाम भी लिखा था और कहा था कि 15 नवंबर को खेला होबे, पर 9 नवंबर को ही वो घर से गायब हो गया और 12 नवंबर को उसका शव मिला।

बता दें कि बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश 9 नवंबर की रात गायब हुआ था। काफी खोजबीन के बाद भी जब युवक का कोई पता नहीं चल पाया तो 11 नवंबर को बेनीपट्टी थाने में मृतक के बड़े भाई चंद्रशेखर झा के आवेदन पर बुद्धिनाथ उर्फ अविनाश को लापता करने की आशंका जताते हुए प्राथमिकी दर्ज करायी गई। दर्ज प्राथमिकी में मृतक के भाई चंद्रशेखर झा ने साजिश के तहत निजी नर्सिंग होम के कर्मियों द्वारा अविनाश को लापता किये जाने का आरोप लगाया था। जिनमें मां जानकी सेवा सदन अंबेदकर चौक बेनीपट्टी, शिफा पॉली क्लिनिक मकिया, सुदामा हेल्थ केयर धकजरी, अंशु फस्ट एड सेंटर धकजरी, सोनाली हॉस्पिटल अनुमंडल मेन गेट बेनीपट्टी, अराधना हेल्थ एंड डेंटल केयर क्लिनिक जेल गेट बेनीपट्टी, जय मां काली सेवा सदन अरेर, सान्वी हॉस्पिटल ननदी भौजी चौक, अनन्या नर्सिंग होम, अनुराग हेल्थ केयर कटैया रोड बेनीपट्टी सहित 11 ज्ञात एवं अन्य अज्ञात फर्जी नर्सिंग होम शामिल है। उन्होंने बताया कि छोटे भाई अविनाश पिछले कई सालों से बेनीपट्टी बाजार सहित क्षेत्र के फर्जी नर्सिंग होमों पर कार्रवाई कराने को लेकर प्रयासरत रहता था। कई नर्सिंग होम की जांच भी हुई और कई पर कार्रवाई भी। इसी कारण से उक्त ज्ञात व अज्ञात फर्जी नर्सिंग होमों में से किसी ने अविनाश को रास्ते से हटाने की साजिश रचकर उसकी हत्या कर दी है।

बेनीपट्टी एसडीपीओ अरुण कुमार सिंह ने कहा कि पुलिस द्वारा घटना की गहन अनुसंधान और छापेमारी चल रही है। जल्द ही इसमें शामिल हत्यारों को गिरफ्तार कर कांड का उद्भेदन पुलिस के द्वारा कर लिया जायेगा।

थानाअध्यक्ष अरविंद कुमार ने बताया कि पुलिस इस घटना के उद्भेदन के करीब तक पहुंच गयी है। हत्यारों की गिरफ्तारी के लिये पुलिस की सघन छापेमारी अभियान चल रही है।

2 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.