न्यूज डेस्क/जनपथ न्यूज
Edited by: राकेश कुमार
मार्च 18, 2022
कश्मीरी पंडितों की त्रासदी और उनके जख्म को बयां करने वाली ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म पर सियासत जारी है। टीवी न्यूज चैनलों पर हर दिन डिबेट भी हो रहा है।
बता दे कि बीजेपी शासित राज्यो में द कश्मीर फाइल्स को टैक्स फ्री किए जाने के बाद अब बिहार में भी द कश्मीर फाइल्स सिनेमा को टैक्स फ्री कर दिया गया है।
द कश्मीर फाइल्स फिल्म को बिहार में टैक्स फ्री करते ही यहां सियासी घमासान छिड़ गया। विपक्ष के अलावा सत्ताधारी एनडीए गठबंधन में भी फिल्म को लेकर विरोध के स्वर तेज हो गए। एनडीए गठबंधन में इस फिल्म के खिलाफ मोर्चा पूर्व मुख्यमंत्री औऱ ‘हम’ के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने उठाई है।
जीतनराम मांझी ने फिल्म को लेकर एक ट्वीट करते हुए कहा, द कश्मीर फाइल्स आतंकवादियों की एक गहरी साजिश भी हो सकती है, जिसे दिखाकर आतंकी संगठन कश्मीरी ब्राह्मण में डर एवं खौफ का माहौल बना रहे हैं ताकि डर से कश्मीरी ब्राह्मण पुनः कश्मीर न जा पाए। मांझी यहीं नहीं रूके उन्होंने फिल्म से जुड़े लोगों पर निशाना साधते हुए कहा कि द कश्मीर फाइल्स फिल्म यूनिट के सदस्यों के आतंकी कनेक्शन की जांच होनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने फिल्म अभिनेता अनुपम खेर के नाम का भी जिक्र कर दिया।
बता दें कि भाजपा यह कहते हुए फिल्म की सराहना कर रही है कि फिल्म में कश्मीरी पंडितों की दुर्दशा को दिखाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री की जमकर तारीफ की और कहा कि लोगों को जागरूक करने के लिए कश्मीर पर ऐसी और फिल्में बनाई जानी चाहिए।

2 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.