हिमानी बुंदेला ने जीते 1 करोड़ रुपये, नहीं दे पाईं 7 करोड़ रुपये के सवाल का जवाब, क्या था 7 करोड़ रुपये का सवाल
Edited By: राकेश कुमार
जनपथ न्यूज
सितंबर 1, 2021

कौन बनेगा करोड़पति-13 में हिमानी बुंदेला ने शिरकत की और अपने खेल से सभी को दीवाना बना दिया। हिमानी के व्यवहार और ज्ञान से अमिताभ बच्चन भी काफी इंप्रेस हुए और उन्हें ढेर सारी बधाई दी। हिमानी बुंदेला दृष्टिहीन होने बाद भी काफी ज्ञानी हैं और पढ़ाती भी हैं। शो में अपने शानदार खेल से उन्होंने दिखा दिया कि दुनिया में कुछ भी नामुमकिन नहीं है बस हौसले बुलंद होने चाहिए। 1 करोड़ के सवाल का जवाब तो हिमानी ने दे दिया मगर वे 7 करोड़ के सवाल का जवाब नहीं दे पाईं।

आइए जानते हैं क्या था 7 करोड़ का सवाल:

डॉक्टर भीमराव अंबेडकर द्वारा लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में प्रस्तुत किए गए थीसस का शीर्षक क्या था जिसके लिए उन्हें 1923 में डॉक्टरेट की उपाधि दी गई थी?
ए- द वान्ट्स एंड मीन्स ऑफ इंडिया
बी- द प्रॉब्लम ऑफ द रूपी
सी- नेशनल डिविडेंड ऑफ इंडिया
डी- द लॉ एंड लॉयर्स

हिमानी बुंदेला को इस सवाल का जवाब नहीं पता था। उन्होंने काफी देर विचार-विमर्श किया। उन्होंने अपनी सारी लाइफलाइन का इस्तेमाल कर लिया था। काफी सोच-समझ कर हिमानी ने गेम को क्विट करके और 1 करोड़ रुपये के साथ वापस लौटने का फैसला किया। उन्हें सी ऑप्शन सही लग रहा था मगर वे श्योर नहीं थीं। वे गलत जवाब देकर 1 करोड़ रुपये गंवाना नहीं चाहती थीं और 3 लाख 20 हजार पर वापस नहीं आना चाहती थीं इसलिए उन्होंने क्विट कर दिया। इस सवाल का सही जवाब था ऑप्शन बी. यानी द प्रॉब्लम ऑफ रूपी।

1 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.