जनपथ न्यूज डेस्क
Edited by: राकेश कुमार
27 जुलाई 2022

केंद्रीय जांच एजेंसी ने आज पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव के तत्कालीन ओएसडी भोला यादव को नौकरी के लिए जमीन लेने के मामले में गिरफ्तार किया है। बिहार में पटना और दरभंगा में चार जगहों पर तलाशी जारी है। भोला यादव 2004 से 2009 तक लालू यादव के ओएसडी रहे थे। लालू यादव उस वक्त के रेल मंत्री थे और यह घोटाला भी उसी समय का है। भोला यादव को ही इस घोटाले का मास्टरमाइंड माना जा रहा है।

दरअसल, ये मामला साल 2004-2009 के रेलवे भर्ती घोटाले से जुड़ा है। आरोप है कि लालू यादव जब रेल मंत्री थे तब उस समय नौकरी के बदले जमीन देने के लिए कहा जाता था। चूंकि, पैसे लेने में रिस्क था इसलिए नौकरी के बदले जमीन ही ली जाती थी। वहीं इस तरह के अवैध काम को अंजाम देने के लिए लालू के उस समय के OSD भोला यादव को ही जिम्मेदारी दी गई थी।

दरअसल, भोला यादव लालू यादव के बेहद करीबी हैं। साल 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में वह बहादुरपुर सीट से विधायक चुने गए थे। हालांकि, 2020 के विधानसभा चुनाव में वे हायाघाट सीट से हार गए थे। उनको लालू का हनुमान कहा जाता है और तेजस्वी के भी काफी नजदीकी माने जाते हैं। लालू की बीमारी से लेकर जेल और कोर्ट-कचहरी हर जगह वो साया की तरह उनके साथ रहते हैं। भी हाल में पारस अस्पताल से लेकर दिल्ली एम्स तक उनके साथ थे।

2 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.