राहिल सिद्दीकी /भागलपुर
कूड़ेदान में कूड़ा नहीं, कूडे़ में डाल दिए गए कूड़ेदान
जनपथ न्यूज़ : भागलपुर – सफाई व्यवस्था के नाम पर नगर निगम जनता को ठेंगा दिखाने का काम कर रही है। यहां पर निगम प्रशासन द्वारा कूड़ेदान लगाकर मोटा मुनाफा कमाया जा रहा है। कूड़दान ऐसे जगहों पर लगाए जा रहे है, जहां पर कूड़ेदानों का कोई उपयोग ही नहीं है। कई कूड़ेदानों को उन जगहों पर लगाया गया है, जहां पर कूड़े के बड़े-बड़े ढेर लगे है। वहीं पालिका द्वारा कूड़ेदान लगाने का मकसद है कि लोग छोटे-छोटे कूड़े को निगम के द्वारा लगाए गए कूड़ेदानों में डाल दें। लेकिन साफ तौर पर देखा जाए तो खुद कूड़ेदान भारी गंदगी के बीच लगाए गए है जहां दुर्गंध और गंदगी के कारण लोगों का पहुंचना मुश्किल है। ऐसे में साफ तौर से कह सकते है कि कूड़़ेदान के नाम पर आए हुए बजट को बैंक से निकालने के लिए सिर्फ दिखावे के कूड़ेदान लगाए गए है।
जहां पर वर्षो से निगम का अस्थाई डलाव घर बना हुआ है। आलम यह है, कि इन कूड़ेदानों तक पहुंचाना किसी के लिए भी आसान काम नहीं है। यह दृश्य आपको दिखाता है कि किस तरह से कूड़ेदानों को कूड़े में डाल दिया गया है। गंदगी के बीच लगा यह कूड़ेदान खुद नगर निगम को कोस रहे होंगे। क्योंकि कूड़ेदानों में कूड़ा डाला जाता है लेकिन यहां तो कूड़ेदानों को खुद कूड़े में लगा दिया गया है।
चंद दिनों में ही नगर निगम के लगाए गए अधिकांश कूड़ेदान टूट गए। कारण निगम द्वारा घटिया क्वालिटी के कूडे़दान नगर में लगवाए गए थे। जिस कारण कूड़ेदान लगने के कुछ ही दिन बाद छतिग्रस्त हो गए। वहीं कूड़ेदाने लगाने के बाद कोई भी निगम का सिपाही जाकर इन कूड़ेदानों की सही ढंग से सफाई व्यवस्था का भी ध्यान नहीं देता है।तो वही लोगो को शहर में सफाई व्यवस्था वनाए रखने के लिए कूड़दान लगाए गए है। जनता को चाहिए की कूड़ा कूड़ेदान मेंं ही डाले। वहीं जिन कूड़ेदानों का स्थान ठीक नहीं है उनको उचित जगहों पर लगाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.