कश्मीरी पंडितों की पीड़ा पर बनी फिल्म ‘ द कश्मीर फाइल्स’ सिनेमाघरों में हुई रिलीज…….

न्यूज डेस्क जनपथ न्यूज
Edited by: राकेश कुमार
मार्च 12, 2022

फिल्ममेकर विवेक अग्निहोत्री के डायरेक्शन में बनी फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ का लंबे समय से इंतजार था। अब आखिरकार फिल्म पर्दे पर आ चुकी है। इस फिल्म में हिंदी सिनेमा के मंझे हुए कलाकारों ने काम किया है। इसका निर्देशन नेशनल अवॉर्ड विजेता निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने किया है। इस फिल्म में अनुपम खेर, मिथुन चक्रवर्ती, दर्शन कुमार और अतुल श्रीवास्तव जैसे दिग्गज अभिनेता अहम किरदारों में हैं।

फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ 90 के दशक में कश्मीरी पंडितों के पलायन की ऐतिहासिक घटना पर आधारित है। कहा जाता है कि कश्मीर से पंडितों को हटाने के लिए उनका वहां नरसंहार किया गया था। कश्‍मीरी पंडित संघर्ष समिति के अनुसार, साल 1990 में घाटी के भीतर 75,343 कश्मीरी पंडित परिवार थे। लेकिन साल 1990 और 1992 के बीच आतंकियों के डर से 70 हजार से ज्‍यादा परिवारों ने घाटी को छोड़ दिया। साल 1990 से 2011 के बीच आतंकियों ने 399 कश्‍मीरी पंडितों की हत्‍या की है। पिछले 30 सालों के दौरान घाटी में बमुश्किल 800 हिंदू परिवार ही बचे हैं। साल 1941 में कश्‍मीरी हिंदुओं का आबादी में हिस्‍सा 15 फीसदी था लेकिन साल 1991 तक उनकी हिस्‍सेदारी सिर्फ 0.1 फीसदी ही रह गई। अपनी मातृभूमि और कर्मभूमि से विस्थापित होने के कश्मीरी पंडितों के इस दर्द को व्यापक रिसर्च के बाद रूपहले पर्दे पर पेश किया जा रहा है। कश्मीरी पंडितों के इस दर्द को अभी तक बड़ी स्क्रीन पर देखने का काफ़ी कम मौक़ा मिला है, लेकिन अब डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री इसी कहानी को ‘द कश्मीर फाइल्स’ में समेट कर लाए हैं।

फिल्म के निर्देशक विवेक अग्निहोत्री का भी कहना है कि साल 1990 में हुआ कश्मीरी नरसंहार भारतीय राजनीति का एक अहम और संवेदनशील मुद्दा है, इसलिए इसे पर्दे पर उतारना कोई आसान काम नहीं था। इसके लिए हमारी टीम ने एक व्यापक रिसर्च किया है। करीब 700 कश्मीरी पंडितों के परिवारों से बातचीत की गई है, जिन्होंने सीधे तौर पर कश्मीर की इस हिंसा को झेला, उन्हें विस्थापित होना पड़ा और वो आज भी उसी दर्द के साथ जी रहे हैं।

3 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.