*सूदखोरी के धंधेबाज रडार पर*

Reported by: गौतम सुमन गर्जना/भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
2 सितंबर 2022

भागलपुर : गुंडा बैंक और सूदखोरी के अवैध कारोबार को लेकर हाई कोर्ट के निर्देश पर पुलिस मुख्यालय की ओर से जांच लगातार जारी है। आर्थिक अपराध इकाई पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है। पिछले पांच दिनों से आर्थिक अपराध इकाई की टीम भागलपुर में गुप्त तरीके से जांच कर रही है। पूर्व में भागलपुर पहुंची पांच सदस्यीय टीम वापस लौट गई थी। इसके बाद पुलिस मुख्यालय से आर्थिक अपराध इकाई की दो अलग-अलग टीमों को भागलपुर भेजा गया है।

*प्राथमिकी दर्ज करने की तैयारी*
इसी कड़ी में नाथनगर के कई इलाकों में धड़ल्ले से चल रहे सूदखोरी के कारोबार का पता चलने के बाद अब पुलिस मुख्यालय के अधिकारियों ने एक विशेष पदाधिकारी को जांच के लिए भागलपुर भेजा है। माना जा रहा है कि अब आर्थिक अपराध इकाई की टीम किसी भी वक्त नाथनगर इलाके में चल रहे सूदखोरी के कारोबार को लेकर प्राथमिकी दर्ज कर सकती है। हालांकि, प्राथमिकी भागलपुर के किसी थाने में दर्ज होगी या पटना स्थित आर्थिक अपराध इकाई के थाने में इसकी पुष्टि कोई नहीं कर रहा।

*गुप्त तरीके से चल रही जांच*
गौरतलब है कि गुंडा बैंक व सूदखोरी के अवैध कारोबार को लेकर पिछले छह दिनों से आर्थिक अपराध इकाई यानि इओयू की जांच टीम भागलपुर में काम कर रही है। गुप्त तरीके से चल रही जांच में सूदखोरी और गुंडा बैंक से जुड़ी जानकारियां सामने आ रही हैं। जानकारी के अनुसार आर्थिक अपराध इकाई की पिछले तीन दिनों की जांच में नाथनगर इलाके से संबंधित मामले सामने आये हैं। इसकी वजह से टीम का फोकस वर्तमान में नाथनगर थाना क्षेत्र पर है।

*ठोस सबूत इकट्ठा किये जा रहे*
इस दौरान नाथनगर में कई अन्य लोगों की जुड़े हुए होने की बात सामने आई है। यह भी बताया जा रहा है कि जिन लोगों के विरुद्ध इओयू को साक्ष्य मिले हैं उनको लेकर गहन जांच की जा रही है और ठोस सबूत इकट्ठा किये जा रहे हैं और जल्द ही रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई होने की संभावना है। अपुष्ट सूत्रों के अनुसार पटना व भागलपुर में मामला दर्ज होने की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है।

3 Views