जनपथ न्यूज डेस्क, पटना
Edited by: राकेश कुमार
25 जून 2022

आपातकाल की 47वीं बरसी के अवसर पर भारतीय जनता पार्टी बिहार प्रदेश के तत्वावधान में भागलपुर में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बिहार के उप मुख्यमंत्री श्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि 25 जून 1975 को मध्य रात्रि में तत्कालीन कांग्रेसी सरकार ने आपातकाल की घोषणा कर लोकतंत्र की हत्या की थी। आपातकाल भारत के इतिहास का काला अध्याय है।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आपातकाल के दौरान लोकनायक जयप्रकाश नारायण, अटल बिहारी बाजपेई, लालकृष्ण आडवाणी, नानाजी देशमुख, मधुलिमये जैसे अनेक राष्ट्र स्तर के नेताओं तथा राज्य स्तर पर श्री नीतीश कुमार, सुशील कुमार मोदी, श्री अश्विनी कुमार चौबे, श्री राजाराम पांडे जैसे अनेक समर्पित नेतागण बर्बरतापूर्ण पुलिसिया कार्रवाई के शिकार हुए। अनेकानेक नेताओं को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया गया। प्रेस पर प्रतिबंध लगा दिया गया। प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया को भंग कर दिया गया। असंख्य विपक्षी नेताओं को यातनाएं दी गई एवं उन्हें जेल में डाल दिया गया।

उन्होंने 1975 के छात्र आंदोलन के दौरान विद्यार्थी परिषद के सदस्य के रूप में अपनी स्मृतियों को साझा करते हुए कहा कि आपातकाल के दौरान लोगों के नागरिकों अधिकारों को छीन लिया गया। संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर किया गया। उन्होंने कहा कि अंग्रेजों के शासन के बाद संभवत: यह पहला मौका था, जब आपातकाल के दौरान अपने ही देश में एक निर्वाचित सरकार द्वारा निरंकुश तरीके से अपने ही लोगों को घोर यातनाएं दी गई। कांग्रेस के इस निरंकुश शासन को आज भी देश के लोग भूल नहीं पाए हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा राष्ट्रवाद के सिद्धांत पर चलने वाली पार्टी रही है। भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने पूरे विश्व में आत्मविश्वास एवं स्वाभिमान को कायम किया है। सुदृढ़ और सफल नेतृत्व के कारण देश के युवाओं में नई ऊर्जा और उत्साह का संचार हुआ है। आज का भारत प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में मजबूत राष्ट्रवादी सोच के साथ स्वाभिमान और स्वावलंबन की ओर तेजी से अग्रसर है। उन्होंने कहा कि आपातकाल के दौरान जिन असंख्य कार्यकर्ताओं ने लाठी और गोलियां खायीं, ऐसे जे.पी. सेनानियों के सम्मान एवं सुविधा के लिए बिहार सरकार ने योजनाएं संचालित की है। जेपी आंदोलन में हिस्सा लेने वाले आंदोलनकारियों को सरकार ने सम्मान और पेंशन की व्यवस्था सुनिश्चित की है और आगे भी इनकी बेहतरी एवं कल्याण के लिए सरकार हर संभव प्रयास करेगी।

उपमुख्यमंत्री ने मूर्धन्य नेता स्वर्गीय सुंदर सिंह भंडारी की पुण्यतिथि के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। उक्त मौके पर भागलपुर जिला भाजपा के अध्यक्ष श्री रोहित पांडे, बिहार विधान पार्षद डॉ० एन.के. यादव पवन कुमार यादव, पूर्व जिला अध्यक्ष अमन बर्मन, नमय चौधरी, नरेश चंद्र मिश्र हरिवंश मणि, पवन मिश्र, मृत्युंजय कुमार, शेखर कुमार, महिला मोर्चा की अध्यक्ष सहित भागलपुर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्तागण एवं 1975 के आंदोलन में शामिल रहे नागरिक गण उपस्थित थे।

3 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.