पटना नगर निगम के सफाई कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर, शहर में लगा गंदगी का अंबार

Reported By: न्यूज डेस्क
Edited By: राकेश कुमार
जनपथ न्यूज/सितंबर 9, 2021

पटना: पटना नगर निगम के कर्मचारी 7 सितंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। निगम के छह हजार चतुर्थवर्गीय कर्मियों के हड़ताल पर जाने से राजधानी पटना में सफाई व्यवस्था प्रभावित हो रही है। पटना में हर जगह कूड़ो का अंबार लगा हुआ है। सड़कों पर चारों तरफ कचरे का ढेर नजर आ रहा है। गंदगी की दुर्गंध से राहगीरों का सड़क पर चलना मुश्किल हो रहा है। पटना नगर निगम के चतुर्थवर्गीय कर्मचारीयों के हड़ताल की वजह से हर जगह सफाई की स्तिथि काफी दयनीय बनी हुई है। पटना के प्रमुख स्थानों हड़ताली मोड़, बोरिंग रोड चौराहा, इनकम टैक्स चौराहा और एग्जिबिशन रोड पर सभी जगह सड़कों पर भारी मात्रा में कचरा फैला हुआ है।

बता दे कि पटना नगर निगम चतुर्थवर्गीय कर्मचारी संघ ने दैनिक कर्मियों की सेवा नियमित करने, समान काम के लिए समान वेतन और 18000 रुपये मासिक मजदूरी देने जैसी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। पटना नगर निगम चतुर्थवर्गीय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष पीके आजाद भारतीय के मुताबिक एजेंसी के द्वारा कर्मियों के साथ मनमाना बर्ताव किया जा रहा है, सेवा की कोई गारंटी नहीं है। एजेंसी मनमाने तरीके से कर्मियों को रखती और हटाती है। साथ ही साथ बोनस देने की घोषणा के बावजूद अब तक राशि नहीं दी गई है।

संघ ने दावा किया है कि सभी अंचल और जलापूर्ति शाखा के कर्मचारी भी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे जबतक उनकी मांगें पूरी नहीं होती। निगम के चतुर्थवर्गीय कर्मी इसके पहले भी इन मांगों को लेकर हड़ताल कर चुके हैं। जब पिछली बार इन्होंने हड़ताल पर जाने का फैसला किया था तो निगम के पदाधिकारियों ने मान मनौवल कर उन्हें मना लिया था। यह भरोसा दिया गया था कि उनकी मांगों पर विचार किया जाएगा, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ जिसकी वजह से 7 सितंबर से फिर से निगम कर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं।

4 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.