जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना, भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
24 अगस्त 2022

भागलपुर : जिले के तत्कालीन एसएसपी रहे मनोज कुमार ने भागलपुर में रोको-टोको अभियान की शुरुआत की थी। उक्त अभियान से मिली सफलता की चर्चा पुलिस मुख्यालय तक हुई। अभियान के कारगर होने की बात की जानकारी मिलते ही भागलपुर पहुंचे तत्कालीन डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने उक्त अभियान को राज्य भर के पुलिस को अपने-अपने जिला में लागू करने का निर्देश जारी कर दिया था।

अभियान को लगातार मिल रही सफलता को लेकर वर्तमान डीजीपी ने भी इस अभियान को प्रोत्साहित करते हुए इसमें एक और जांच और कार्रवाई को जोड़ा है। पुलिस मुख्यालय की ओर से जारी किये गये निर्देश में अब जिला पुलिस के थानों और अन्य चेकिंग टीमों द्वारा रोको-टोको अभियान चलाने के साथ-साथ अब जिन लोगों को रोक कर उनका सत्यापन और चेकिंग किया गया है उनका फोटो भी लेना होगा।

फोटो लेने के बाद जिन लोगों की जांच की गयी है उनके फोटो के साथ उनके नाम और पता सहित अन्य कारणों की जानकारी अपने जिला पुलिस के व्हाट्सएप ग्रुप में भेजना होगा। भेजे जाने वाले फोटो में नक्शा की जानकारी (लेटिट्यूड और लौंगिट्यूड) के विवरण के साथ मोबाइल में मौजूद सॉफ्टवेयर से तस्वीर लेना होगा।
पुलिस मुख्यालय ने भागलपुर सहित राज्य के सभी जिलों के एसएसपी/एसपी को निर्देशित किया है कि रोको-टोको-फोटो अभियान की मॉनिटरिंग की जिम्मेवारी संबंधित क्षेत्र के एसडीपीओ और सर्किल इंस्पेक्टरों को देनी होगी। वहीं जिला के एसएसपी और एसपी भी उक्त अभियान की समय-समय पर औचक जांच करेंगे।

*एएलटीएफ को वाहन मुहैया कराने का निर्देश*
पुलिस मुख्यालय के निर्देश पर इसी वर्ष जनवरी माह में शराब मामलों में कार्रवाई करने और मद्य निषेध धाराओं में दर्ज कांडों में फरार अभियुक्तों के विरुद्ध कार्रवाई के लिये एंटी लीकर टास्क फोर्स (एएलटीएफ) का गठन किया गया था। उक्त निर्देश के बाद पुलिस मुख्यालय की ओर से यह भी कहा गया था कि एएलटीएफ टीम को सभी जरूरी संसाधन मद्य निषेध विभाग की जिला इकाई द्वारा मुहैया कराया जायेगा।

वहीं, मद्य निषेध विभाग की जिला इकाई ने अपने अपने जिला के अधीन जिला की एएलटीएफ टीम को वाहन सहित टॉर्च, वायरलेस आदि संसाधन मुहैया भी कराया लेकिन विगत माह ही मद्य निषेध विभाग की ओर से उक्त संसाधनों को एएलटीएफ से वापस लेने का भी निर्देश दिया गया। उक्त निर्देश जारी किये जाने के बाद एएलटीएफ टीम को शराबबंदी कानून को लेकर की जानेवाली कार्रवाई में आनेवाली समस्याओं से पुलिस मुख्यालय को अवगत कराया गया.इसके बाद पुलिस मुख्यालय की ओर से सभी जिलाें के एसएसपी/एसपी को उनके जिला में मौजूद एएलटीएफ टीम को जिला बल से वाहन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। सभी टीमों को वाहन उपलब्ध कराया गया है, इस बात को सुनिश्चित करने के बाद इसकी रिपोर्ट पुलिस मुख्यालय को भी भेजने का निर्देश दिया गया है।

2 Views