बिहारः गया में भारतीय जनता पार्टी के नेता और पूर्व MLC अनुज कुमार सिंह के घर पर नक्सलियो ने डायनामाइट से ब्लास्ट किया। हमले के बाद नक्सलियों ने चुनाव बहिष्कार के मांग वाले पर्चे फेंके। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
जनपथ न्यूज़ :-  लोकसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान से पहले बिहार के गया में नक्सलियों ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता और पूर्व विधान पार्षद अनुज कुमार सिंह का घर बम लगाकर उड़ा दिया है. घर को उड़ाने के बाद नक्सली वहां से भाग निकले. हालांकि, घटना स्थल पर एक पर्चा छोड़ गए जिस पर चुनाव को वहिष्कार करने की बात लिखी हुई है.
घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई है. नक्सलियों के इस कार्रवाई में परिवार का कोई भी सदस्य हताहत नहीं हुआ है. घटना बुधवार रात की बताई जा रही है.  पुलिस के पहुंचने के पहले नक्सली फरार हो चुके थे. पुलिस इलाके में सर्च आॅपरेशन चला रही है. जानकारी के अनुसार, गांव में स्थित घर में पूर्व एमएलसी के चाचा के परिवार के सदस्य व एक मजदूर रहते हैं. पुलिस ने उनके घर को विस्फोट कर बुधवार रात करीब 11 बजे उड़ा दिया. पुलिस का कहना है कि पूर्व एमएलसी के चाचा के परिवार के सदस्य और मजदूर सभी सुरक्षित हैं.

पूर्व एमएलसी अनुज सिंह ने बताया कि उनके चचेरे भाई जय सिंह के साथ नक्सलियों ने मारपीट भी की है. एसएसपी राजीव मिश्रा ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि मौके पर पुलिस जांच में जुटी है. नक्सलियों की धर-पकड़ के लिए कार्रवाई की जा रही है. गौरतलब है कि 2015 में विस चुनाव के दौरान नक्सलियों ने जनार्दन राय के घर को विस्फोट कर उड़ा दिया था. नक्सलियों ने राय की कार को अपने कब्जे में ले लिया था.

गौरतलब है कि अनुज गया स्थित घर में रहते हैं और कभी-कभी अपने पैतृक घर भी जाते रहते हैं. घटना की सूचना डुमरिया थाना के साथ ही एसएसपी तक को दी गई है. घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है. नक्सलियों ने अपने पर्चा में जनप्रतिनिधियों पर जनता के मुद्दो पर लापरवाही दिखाने का आरोप लगाया है और लोकसभा चुनाव के बहिष्कार करने की बात कही है.
बता दें कि गया लोकसभा क्षेत्र में पहले चरण 11 अप्रैल को मतदान है. इस सीट पर एनडीए की ओर से विजय मांझी जेडीयू के टिकट पर चुनावी मैदान में हैं. जबकि महागठबंधन की ओर से हम के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी चुनाव लड़ रहे हैं. बिहार में सभी सात चरणों में मतदान होंगे. पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होगा जबकि अंतिम चरण का मतदान 19 मई को संपन्न होगा. वोटों की गिनती 23 मई को होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.