न्यूज डेस्क/जनपथ न्यूज
Edited by: राकेश कुमार
पटना 25 मई 2022
पटना: भवन निर्माण विभाग द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के 17 भवनों का उद्घाटन एवं 5 भवनों का शिलान्यास वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के द्वारा किया गया।
इस मौके पर वर्चुअल रूप से संबोधन के दौरान बिहार के उपमुख्यमंत्री श्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि बिहार में तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में गुणात्मक परिवर्तन हुआ है। बिहार सरकार ने आत्मनिर्भर बिहार सात निश्चय के अंतर्गत तकनीकी संस्थानों को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के रूप में विकसित करने की ओर तेजी से कदम बढ़ाया है। तकनीकी शिक्षण संस्थानों के माध्यम से नई तकनीकी ट्रेडों में रोजगारपरक पाठ्यक्रम में पढ़ाई शुरू की गई है।
उपमुख्यमंत्री श्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के सर्वव्यापी और सर्वस्पर्शी दृष्टि से बिहार के तकनीकी शिक्षण और प्रशिक्षण में गुणात्मक परिवर्तन हुआ है। मुख्यमंत्री जी के मार्गदर्शन में आत्मनिर्भर बिहार के सात निश्चय के तहत अभियंत्रण विश्वविद्यालय, चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं खेल विश्वविद्यालय का गठन हुआ है। महिलाओं को तकनीकी शिक्षा में सहूलियत और प्रोत्साहन के उद्देश्य से सीटें आरक्षित की गई हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में बिहार ने अग्रणी पहचान बनाई है।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने देश स्तर पर युवाओं के कौशल विकास एवं प्रशिक्षण के लिए महत्वकांक्षी योजनाओं की शुरुआत की है।
वहीं, बिहार में मुख्यमंत्री जी ने आत्मनिर्भर बिहार के सात निश्चय के अंतर्गत 640 करोड़ों रुपए की लागत से डॉ० ए.पी.जे. अब्दुल कलाम साइंस सिटी के निर्माण के निर्णय से बदलते बिहार की तस्वीर को मजबूत स्वरूप प्रदान किया है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में प्रधानमंत्री जी के कुशल मार्गदर्शन और सूझबूझ से जहां लोगों की जान की रक्षा हुई और देश संकट से उबर पाया, वहीं बिहार ने मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में कोरोना टीकाकरण के क्षेत्र में मिसाल कायम की। साथ ही, कोरोना की वैश्विक चुनौती के दौरान बिहार विकास की दर को कायम रखने में कामयाब रहा है।
उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर बिहार के सात निश्चय के अंतर्गत लिए गए संकल्प को पूरा करने हेतु सरकार प्रतिबद्ध है। ऊर्जावान युवा शक्ति को तकनीकी शिक्षा की दृष्टि से उत्कृष्ट शिक्षण, प्रशिक्षण की व्यवस्था के साथ-साथ उद्यम तथा उद्यमिता विकास से स्वावलंबन के मार्ग पर बिहार तेजी से अग्रसर है।

3 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.