वरिष्ठ पत्रकार रवि शंकर सिंह किये गये सम्मानित।
हरिहर क्षेत्र स्मृति मंजूषा समिति द्वारा दिया गया सम्मान।
हरिहर क्षेत्र के जाने-माने एवं वरिष्ठ पत्रकार रविशंकर सिंह उर्फ राजा बाबू को पत्रकारिता जगत में उनकी अभूतपूर्व एवं स्मरणीय सेवाओं के लिए सम्मानित किया गया। यह सम्मान हरिहर क्षेत्र स्मृति मंजूषा समिति द्वारा उनके गंगाजल स्थित पैतृक निवास पर जा कर दिया गया। विदित हो कि रविशंकर सिंह वैशाली जिले के हाजीपुर एवं सारण जिले के सोनपुर के पत्रकारिता क्षेत्र में एक स्थापित नाम के रूप में जाने पहचाने जाते हैं। ये वर्ष 1970 ईस्वी से लगातार इस क्षेत्र से जुड़े हैं।
आज इस क्रम में श्री सिंह ने पुरानी यादों का स्मरण करते हुए बताया कि वे सर्वप्रथम हिंदुस्थान समाचार न्यूज़ एजेंसी से जुड़े एवं लंबे समय तक इसमें सेवा प्रदान की। तत्पश्चात वे समाचार भारती, यूएनआई जैसी समाचार एजेंसियों के अतिरिक्त पटना से प्रकाशित होने वाले विभिन्न दैनिक जैसे आर्यावर्त, इंडियन नेशन एवं आज सहित कई स्थापित समाचार पत्रों से जुड़े रहे। विदित हो कि वे आज भी पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय हैं एवं उनकी एक अलग पहचान है। अपनी ईमानदार छवि के कारण श्री सिंह का विभिन्न सरकारी महकमें में अधिकारी से कर्मचारी तक एवं राजनीतिक जगत में मंत्री से संतरी तक इनकी पत्रकारिता का लोहा माना जाता है। हरिहर क्षेत्र स्मृति मंजूषा प्रकाशन समिति के अध्यक्ष अनिल कुमार सिंह, सचिव राजेंद्र प्रसाद सिंह एवं संपादक विश्वनाथ सिंह अधिवक्ता सह पत्रकार सहित वरिष्ठ व्यंग्य साहित्यकार अमर तिवारी द्वारा इन्हें संयुक्त रूप से अंग वस्त्र, पुष्पमाला एवं हरिहर क्षेत्र स्मृति मंजूषा की एक प्रति देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर वैशाली जिले के प्रसिद्ध योग गुरु एवं समाजसेवी डॉ० महेंद्र प्रियदर्शी एवं पत्रकार राजीव कुमार सिंह भी मौजूद थे।
हरिहर क्षेत्र स्मृति मंजूषा के अध्यक्ष अनिल कुमार सिंह ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि लगभग पचास वर्ष पूर्व इनके द्वारा प्रारंभ किए गए पत्रकारिता की सेवा आज इस इलाके में सम्मान पूर्वक स्मरण की जाने वाली सेवाओं में से एक है। संपादक विश्वनाथ सिंह ने कहा कि रवि बाबू हम लोगों के अभिभावक हैं और हम लोगों ने उनसे बहुत कुछ सीखा है। आज हम लोगों के पास जो भी है वह इनका अनुकरण मात्र है। समिति के महासचिव राजेंद्र प्रसाद सिंह ने पत्रकारिता के क्षेत्र में उनकी सेवाओं के लिए आभार व्यक्त किया एवं उनके द्वारा जलाए गए मशाल को आगे भी प्रज्वलित रखने की बात कही। व्यंग्य साहित्यकार अमर तिवारी ने कहा कि हम लोगों ने अपने प्रारंभिक अवस्था में इन्हीं से प्रेरणा ग्रहण की जो आज हम लोगों में इस रूप में है।
इस सम्मान से अभिभूत पत्रकार रवि शंकर सिंह उर्फ राजा बाबू ने कहा कि आज की वर्तमान पीढ़ी अपने वरिष्ठ लोगों का इतना सम्मान करेगी, इस प्रसन्नता को शब्दों में बखान नहीं किया जा सकता है। यह अगली पीढ़ी के लिए अनुकरणीय है। उन्होंने हरिहर क्षेत्र स्मृति मंजूषा प्रकाशन समिति का इसके लिए हृदय से आभार व्यक्त करते हुए उनके इस भाव का स्वागत किया एवं आशीर्वाद भी प्रदान किया। उन्होंने कहा कि भविष्य में इस प्रकार की गतिविधियों को जारी रखा जाना चाहिए जिससे साहित्य जगत में आए खालीपन को भरा जा सके। इस सम्मान समारोह में कुमोदराज सिंह उर्फ गुडडू, अनुराग कुमार सिंह, हर्ष राज, सुरेश सिंह, उमाशंकर, कोमोद कुमार सिंह सहित स्थानीय ग्रामीण एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

1 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.