तेज बारिश ने बिगाड़ा किसानों की फसल का गणित भारी नुकसान की आशंका
रिपोर्ट:- ब्रजेश सिंह ,आगरा
आगरा जनपद के देहात बाह तहसील क्षेत्र में हुई भारी बारिश के चलते किसानों की मेहनत पर पानी फिरता नजर आ रहा है। बारिश ने किसानों की फसल का गणित बिगाड़ दिया जिससे भारी नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है।

जानकारी के अनुसार रविवार शाम से बाह तहसील क्षेत्र में अचानक लगातार शुरू हुई बारिश से जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। झमाझम बारिश के चलते खेत खलियान में जलभराव की स्थिति बन गई है। 24 घंटे से अधिक समय से क्षेत्र में हुई बारिश के कारण किसानों की फसल का गणित बिगड़ गया है जिसके कारण कोराना काल के बाद अब किसानों को कुदरत की मार झेलनी पड़ रही है। कुदरत की मार बारिश के कारण किसानों की बाजरा, तिल, उड़द, ज्वार, की फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो गई है। खेतों में पानी भरने के कारण बाजरा की फसलें पूरी तरह से पलट कर नष्ट होने के कगार पर है। खेतों में कटी पड़ी बाजरा की बालियां पूरी तरह से जलमग्न होकर भी गई है।जिससे किसानों की फसल को भारी नुकसान की आशंका जताई गई है। कुदरत की मार झेल रहे किसान को रोजी-रोटी तक के लाले पड़ने के आसार दिखाई दे रहे हैं। लगातार हुई बारिश के कारण ग्रामीणों के घरों में भी टपका लगने से लोग परेशान हैं। वही बारिश लगातार जारी है लोग घरों से निकलने के लिए भी परेशान है। बारिश होने के कारण खेतों में जलभराव की स्थिति है जिससे अब सरसों गेहूं चना की खेती बुबाई के लिए भी देरी होगी।

बारिश से नुकसान फायदा

क्षेत्र में अचानक हुई बारिश के कारण किसानों की बाजरा उड़द तिल की फसल को भारी नुकसान की आशंका जताई जा रही है। तो वही खेतों में अब किसानों को नलकूपों से पलेवट की जरूरत नहीं पड़ेगी। जिससे खेतों की जुताई अच्छी होगी और गेहूं सरसों चना बोने के बाद आगे अच्छी फसल पैदावार की आशंका है।

2 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.