जनपथ न्यूज डेस्क/पटना

Edited by: राकेश कुमार
24 अगस्त 2022

पटना: एक तरफ जहां नीतीश सरकार जहां विधानसभा में बहुमत साबित कर रही है तो वही दूसरी तरफ आरजेडी नेताओं पर बिहार से लेकर गुरुग्राम तक सीबीआई की छापेमारी जारी है। आरजेडी नेताओं पर सीबीआई की छापेमारी से राजनीतिक गलियारों में खलबली मच गई है। बता दे कि आरजेडी नेताओं के यहां सीबीआई की छापेमारी ऐसे वक्त पर हुई, जब विधानसभा में फ्लोर टेस्ट होना है।

सीबीआइ ने आज जमीन-रेलवे नौकरियों के मामले में बिहार में छापेमारी की। ये छापेमारी राष्ट्रीय जनता दल के सांसद अशफाक करीम, फ़ैयाज़ अहमद और एमएलसी सुनील सिंह के घर आज सुबह से की जा रही है। इस छापेमारी पर राजद एमएलसी और बिस्कोमान पटना के अध्यक्ष सुनील सिंह का बयान भी आया है। एमएलसी सुनील सिंह ने कहा, “यह जानबूझकर किया जा रहा है, इसका कोई मतलब नहीं है, वे यह सोचकर ऐसा कर रहे हैं कि डर के मारे विधायक उनके पक्ष में आएंगे।” बता दें कि सुनील सिंह के घर सुबह 7.30 बजे से सीबीआई की टीम मौजूद है। इस मामले में करीब 24 लोकेशंस पर सीबीआई की रेड हो रही है। इसमें दिल्ली, गुरुग्राम, पटना, कटिहार, मधुबनी शामिल है। गुरुग्राम में अर्बन क्यूब 71 मॉल है, ये तेजस्वी यादव और उनके करीबियों का बताया जा रहा है, यहां भी रेड हो रही है।

दरअसल, यह घोटाला यूपीए-1 सरकार में लालू यादव के रेल मंत्री रहने के दौरान का है। बता दे कि सीबीआई ने 18 मई 2022 को FIR दर्ज की थी। इसमें लालू प्रसाद यादव, राबड़ी देवी, मीसा भारती, हेमा यादव समेत अन्य लोगों के नाम है। ये भर्ती घोटाला साल 2004 से 2009 के बीच के समय का है। आरोपों है कि जब लालू यादव रेल मंत्री थे तो जॉब लगवाने के बदले जमीन और प्लॉट लिए गए थे। इस मामले में सीबीआई ने लालू यादव के करीबी भोला यादव को गिरफ्तार किया था। साल 2004 से 2009 में जब लालू यादव रेल मंत्री थे तब भोला यादव उनके ओएसडी थे।

इस कार्रवाई पर राजद सुप्रीमो लालू यादव की पत्नी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने इसे बदले की कार्रवाई बताया। उन्होंने कहा कि सीबीआई छापा से डराने की कोशिश की जा रही है, हमलोग सीबीआई छापेमारी से डरने वाले नहीं है। राबड़ी ने कहा कि नई सरकार बनने से बीजेपी डर गई है। दोनो सदनों में हमलोग बहुमत हासिल करेंगे,दोनो जगह हमारा बहुमत है।

4 Views