ये है विकास का मास्टर प्लान

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना
Edited by: राकेश कुमार
4 जनवरी 2022

भागलपुर : शहर की महापौर बनीं डॉ०वसुंधरा लाल पेशे से शहर की जानी-मानी महिला चिकित्सक हैं। इनके पास एमबीबीएस और एमएस की डिग्री है। अब इन पर उस शहर की बीमारी दूर करने की जिम्मेवारी है, जिस शहर की बीमारी से ग्रसित होकर लोग मरीज बन उनकी क्लीनिक में इलाज के लिए आते रहे हैं. वहीं उपमहापौर प्रो०(डॉ०) सलाउद्दीन अहसन का नाम शहर में सामाजिक एकता को बनाये रखने के लिए जाना जाता रहा है। वह शिक्षाविद भी हैं और वे 26 साल तक मुस्लिम माइनिरिटी कॉलेज में प्राचार्य रह चुके हैं। अब बात करें तो नगर निगम के नगर आयुक्त की। नगर आयुक्त डॉ० योगेश कुूमार सागर आइएएस बनने के पहले एमबीबीएस डॉक्टर भी रह चुके हैं। उन्होंने लखनऊ के किंज जार्ज मेडिकल अस्पताल से मेडिकल की पढ़ाई की है। वो राजन बाबू अस्पताल में कार्य कर चुके हैं। अब यह देखना यह दिलचस्प होगा कि दो एमबीबीएस और एक शिक्षाविद सभी पार्षदों के साथ मिलकर शहर को विकास के राह पर कहां तक आगे ले जा सकते है…???

*मुख्य मार्ग से लेकर गली-मोहल्ले की गंदगी को साफ करना मेरी प्राथमिकता : डॉ०वसुंधरा लाल*

नवनिर्वाचित महापौर डॉ० वसुंधरा लाल ने सोनभद्र एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान बताया कि शहर की सफाई व्यवस्था को धरातल पर उतारना ही उनकी पहली प्राथमिकता होगी। उन्होंने कहा कि शहर के सभी वार्ड के पार्षद साथ मिल-बैठ कर वार्ड की क्या समस्या है, इसका एक खाका तैयार करेंगे और फिर उसका निदान किया जायेगा। उन्होंने कहा कि शहर के विकास को लेकर मेरी पांच प्राथमिकताएं है।

*निगम क्षेत्र में पड़ने वाले स्कूलों की शिक्षा व्यवस्था को और मजूबत करने का करेंगे प्रयास : प्रो०(डॉ०)सलाउद्दीन अहसन*

नये उपमहापौर डॉ० अलाउद्दीन अहसन ने सोनभद्र एक्सप्रेस से बातचीत में कहा कि निगम क्षेत्र में पड़ने वाले स्कूलों की शिक्षा व्यवस्था को मजबूत करना मेरी पहली प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि कि अच्छी शिक्षा सबको मिले यह मेरी सोच है। क्योंकि एक शिक्षित समाज ही राज्य व देश को आगे बढ़ा सकता है। उन्होंने कहा कि मेरी और कई प्राथमिकताएं हैं, जिसे धरातल पर लाने की कोशिश करुंगा।

*निगम गोदाम में बनेगा वर्कशॉप,15 दिन में शुरू होगी ऑनलाइन होल्डिंग टैक्स व्यवस्था : नगर आयुक्त*

वहीं नगर आयुक्त डॉ० योगेश कुमार सागर ने कहा कि अभी तक निगम की कोई भी गाड़ी खराब होती थी तो बाहर के वर्कशॉप में बनाया जाता था। लेकिन अब निगम की खराब गाड़ियों को बनाने के लिए निगम के गोदाम परिसर में ही वर्कशॉप बनेगा. यहीं पर सभी गाड़ियों को बनाया जायेगा। वर्कशॉप निर्माण को लेकर जल्द टेंडर की प्रक्रिया की जायेगी। उन्होंने कहा कि निगम की होल्डिंग टैक्स की ऑनलाइन प्रक्रिया 15 दिन में शुरू कर दी जायेगी। निगम सफाई और जलापूर्ति पर यूजर्स चार्ज लेगा और यह प्रक्रिया जल्द ही शुरू कर दी जायेगी।

*सफाई,जलापूर्ति,रोशनी संबंधी समस्या हो तो एप पर दें जानकारी*

नगर आयुक्त योगेश सागर ने बताया कि निगम एक एप तैयार कर रहा है, जो एक सप्ताह के अंदर तैयार हो जायेगा। एप तैयार होने के बाद उसे आम लोगों के लिए प्रकाशित किया जायेगा. शहरवासी उस एप को डाउन लोड कर अपनी समस्या को एप पर डाल सकते हैं। उसका निदान होने के बाद भेजने वाले व्यक्ति को उस समस्या को दूर करने वाली तस्वीर भेजी जायेगी। उसके बाद वह उसे ओके करेंगे तभी उस समस्या का निदान माना जायेगा।

 221 total views,  3 views today