जनपथ न्यूज डेस्क
Edited by: राकेश कुमार
15 जून 2022
सेना में भर्ती के लिए सरकार की नई योजना ‘अग्‍न‍िपथ स्कीम’ को लेकर बिहार में बवाल हो रहा है। मुजफ्फरपुर में सड़क पर आगजनी तो बक्सर में रेलवे ट्रैक पर चढ़कर प्रदर्शन हो रहा है। बक्सर में युवाओं ने ट्रेन पर पत्थर फेंके तो मुजफ्फरपुर में सड़कों पर उतर आए हैं। युवाओं ने मुजफ्फरपुर रेलवे स्टेशन के पास चक्कर चौक पर बुधवार को हंगामा किया। इसके अलावा चक्कर मैदान के पास गोबरसही चौक पर भी प्रदर्शन किया जा रहा है। सदर थाना के पास भगवानपुर गोलंबर पर भी बड़ी संख्या में युवक जुटे हैं।
मुजफ्फरपुर में हंगामा कर रहे युवाओं का कहना है कि चार साल के लिए भर्ती किया जाना रोजगार के अधिकार का हनन करना है। उधर, बक्सर रेलवे स्टेशन पर जब सेना की तैयारी करने वाले अभ्यर्थी रेलवे ट्रैक पर अचानक पहुंचे तो अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया। केंद्र सरकार का नया रिक्रूटमेंट प्लान अग्नीपथ योजना को लेकर सैन्य भर्ती वाले अभ्यर्थी उग्र हो गए। वे बक्सर रेलवे स्टेशन पर पहुंचे और रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया।
बक्सर में सेना बहाली के नए नियम को लेकर उग्र हुए बहाली के दौड़ लगाने वाले छात्रों ने दिल्ली कोलकाता लाइफलाइन रेलवे ट्रैक बक्सर स्टेशन के मालगोदाम को जाम कर दिया। वहीं, घटना की सूचना मिलते ही मौके पर रेल सुरक्षा बल, रेल थाना, नगर थाना समेत बक्सर समेत रेल प्रबन्धक पहुंचे। जहां युवाओं को काफ़ी समझाया। इसके बाद ट्रैक पर जाम हटा और परिचालन शुरू हो गया।
अभ्यर्थियों का कहना है, ‘नेता हो या विधायक, सभी को 5 साल का समय मिलता है, हमारा 4 साल में क्या होगा। हमारे पास पेंशन की भी सुविधा नहीं है। 4 साल बाद हम रोड पर आ जाएंगे।’ उनका कहना है कि सेना बहाली में टीओटी हटाया जाए।
अग्निपथ योजना के तहत हर साल करीब 40-45 हजार युवाओं को सेना में शामिल किया जाएगा. ये युवा साढ़े 17 साल से 21 साल की उम्र के बीच के होंगे. -ये भर्तियां मेरिट और मेडिकल टेस्ट के आधार पर की जाएंगी. -इन चार वर्षों में सैनिकों को 6 महीने की बेसिक मिलिट्री ट्रेनिंग दी जाएगी.
,

4 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.