जनपथ न्यूज़:- नालंदा से एक बड़ी खबर आ रही है. लोकतांत्रिक जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव आचार संहिता मामले में मंगलवार को अदालत में आत्मसमर्पण करने के लिए बिहारशरीफ व्यवहार न्यायालय में हाजिर हुए. अदालत ने मामले की सुनवाई करते हुए आज मंगलवार को उपस्थित होने के लिए आदेश जारी किया था. मामले की सुनवाई करते हुए शरद यादव को जमानत दे दी.
जानकारी के मुताबिक, लोकतांत्रिक जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव आचार संहिता मामले में मंगलवार को अदालत में आत्मसमर्पण करने के लिए मंगलवार की सुबह बिहारशरीफ व्यवहार न्यायालय पहुंचे. वर्ष 2015 में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान में आचार संहिता उल्लंघन मामले में 123 आरपी एक्ट के तहत बिहार थाने में दर्ज केस संख्या 472/15 में शरद यादव ने मंगलवार को सरेंडर किया. एसीजेएम-1 की अदालत में शरद यादव के सरेंडर करने के बाद कुछ देर में उन्हें जमानत दे दी गयी. एसीजेएम-1 की अदालत ने आज मंगलवार को उपस्थित होने का आदेश जारी किया था.
शरद यादव ने कोर्ट में पेशी से पहले बयान दिया है. उन्होंने कहा कि पीएम उम्मीदवार पर अभी सहमति नहीं हुई है. शरद यादव ने तीसरे मोर्चे पर कहा कि समय आने पर बता दिया जाएगा. एग्जिट पोल के बारे में शरद यादव ने भी बयान दिया है. उन्होंने कहा कि सभी एग्जिट पोल गलत है. सही रिपोर्ट 23 मई को आने है. सभी एग्जिट पोल एनडीए को बहुमत देखाया गया है. पटना में आज महागठबंधन की बैठक भी होने वाली है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.