जनपथ न्यूज़:- लोकसभा चुनाव में महागठबंधन को बिहार में मिली करारी हार के बाद राजद में उभरे विरोध के सुर के बीच पार्टी नेताओं ने आज एकजुटता का संदेश देने का भरपूर प्रयास किया है. राजद ने आज अपने नेता तेजस्वी यादव के नेतृत्व में पूरी आस्था जतायी है. पार्टी ने कहा है कि तेजस्वी बिहार के भविष्य हैं. 2020 का विधानसभा चुनाव महागठबंधन और राजद तेजस्वी यादव के ही नेतृत्व में लड़ेगा.
लोकसभा चुनाव में पार्टी की हुई हार के कारणों का पता लगाने के लिए पार्टी ने वरिष्ठ नेता जगदानंद सिंह की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय कमेटी बनायी है. कमेटी एक सप्ताह के भीतर अपनी रिपोर्ट देगी. पार्टी का मानना है कि एनडीए को मिला जनादेश षड्यंत्र का जनादेश है. असली जनादेश महागठबंधन को मिला है. पार्टी इसको लेकर जनता के बीच जायेगा. महागठबंधन पूरी तरह से एकजुट है.
गौर हो कि लोकसभा चुनाव में राजद की हुई हार को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के सरकारी आवास पर मंगलवार को राजद उम्मीदवारों और कुछ प्रमुख नेताओं की बैठक हुई. बैठक में हार के कारणों पर चर्चा हुई. बैठक की जानकारी देते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता और बक्सर से पार्टी के वरिष्ठ नेता जगदानंद सिंह ने कहा कि बैठक में एक एक स्वर में सभी ने तेजस्वी यादव के नेतृत्व में पूरी आस्था जतायी. बैठक में यह भी निर्णय हुआ कि 2020 का विधानसभा चुनाव तेजस्वी यादव के नेतृत्व में लड़ा जायेगा. विधानसभा चुनाव तक महागठबंधन का स्वरूप भी यही रहेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.