जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: जितेन्द्र कुमार सिन्हा
Edited by: राकेश कुमार
03 दिसम्बर 2022

राजस्थान के गुढ़ागौड़जी (झुंझुनूं) जिले के जाखल गांव के लोगों ने आपसी सहयोग से एक ऐसी गौशाला की नींव रखी है जहां गायों के नाम से एक-एक लाख रुपये की फिक्स डिपॉजिट (एफडी) कराई जाएगी। जिले के ही भोड़की गांव की एक गौशाला ने कुछ वर्ष पहले यह व्यवस्था शुरू की थी जो अब जाखल गांव की सुंदर दास गोपाल गौशाला में अपनाई जा रही है। फिक्स डिपॉजिट (एफडी) से ब्याज की राशि गायों के पालन पोषण में खर्च की जाएगी। गौशाला का निर्माण सभी लोगों के सहयोग से किया जा रहा है।

सूत्रों ने बताया कि गौशाला समिति के सदस्य सुरेन्द्र पारीक ने बताया कि गौशाला के लिए अभी तक 42 लाख रुपये और 12 बीघा जमीन की व्यवस्था की जा चुकी है। इसमें 10 बीघा जमीन रामजी लाल मुंड तथा 2 बीघा राजकुमार सोनी ने दान की है। इसके अलावा रामजी लाल मुंड ने 11 लाख रुपये , ताराचंद कुमावत ने 1.5 लाख, रिटायर्ड व्याख्याता मूलचंद एवं सरपंच मनोज मुंड ने एक एक लाख रुपये फिक्स डिपॉजिट (एफडी) के लिए दिए है।

भोड़की गांव में जमवाय ज्योति गौशाला के अध्यक्ष शिवराम सिंह गोदारा ने बताया कि फिक्स डिपॉजिट (एफडी) योजना के तहत गौसेवक एक गाय के नाम से गौशाला समिति को एक लाख रुपये दान करता है। उस राशि को बैंक में फिक्स डिपॉजिट (एफडी) के रूप में जमा कराया जाता है। इस गौशाला में अब तक 37 गाय लखपति बन चुकी है।

जाखल में बन रही गौशाला में आर्थिक सहयोग देने के लिए गांव की बेटियाँ भी स्वेच्छा से आगे आ रही है। बेटियाँ भले ही छोटा छोटा धन दे रही है मगर यह पहल बड़ी है। गांव की ही डाक्टर मोनिका शेखावत ने 31 हजार, सुमन सोनी ने 11 हजार तथा पूनम कंवर ने 51 सौ रुपये का दान दिया है। यह राशि गौशाला के विकास में खर्च की जायेगी।

 312 total views,  3 views today