जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: नवीन मोदी, गुना
मई 14, 2022
मध्य प्रदेश के गुना जिले के आरोन के अंतर्गत आने वाले बरखेड़ा गांव में पांच काले हिरण और एक राष्ट्रीय पक्षी मोर का शिकार करके ले जा रहे शिकारियों के साथ हुई पुलिस की मुठभेड़ में 3 पुलिसवालों की मौत के मामले में बड़ा अपडेट सामने आया है।
बता दे कि मध्य प्रदेश के गुना में पुलिस और काले हिरण के शिकारियों के बीच भीषण मुठभेड़ हुई है, जिसमें तीन पुलिसकर्मियों की मौत हो गई है। मृतकों में एस आई राजकुमार जाटव, आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम शामिल हैं। बदमाश काले हिरण को मारकर ले जा रहे थे। घटना शुक्रवार देर रात की है।
गुना में हुई ये घटना सागा बरखेड़ा गांव की है और ये गांव आरोन पुलिस स्टेशन में आता है। पुलिस को खुफिया जानकारी मिली थी कि कुछ शिकारी हिरणों का शिकार करने गए हैं। सूचना मिलते ही इन्हें पकड़ने के लिए पुलिस मौके पर गई थी। मौके पर पहुंचते ही शिकारियों के गैंग ने इन पर हमला कर दिया और इसी हमले में तीन पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं।
बताया जा रहा है कि, इस मुठभेड़ में एक शिकारी की भी मौत हुई है। मुठभेड़ में मारे गए शिकारी का नाम नौशाद खान बताया जा रहा है, जो गुना जिले के राघोगढ़ का ही रहने वाला था। वहीं, मुठभेड़ में घायल हुए पुलिस वाहन चालक ने बताया कि, जिन शिकारियों से मुठभेड़ हुई है उनकी संख्या 7 थी। पुलिस ने ग्राम से बल प्रयोग व हवाई फायर कर किया शव बरामद, कइयों को लिया हिरासत में लिया और शेष आरोपियो की तलाश जारी है।
आपको बता दे कि आरोन की घटना में जिस प्रकार सीधे ही पुलिस पर देखते ही फायरिंग हुई है, ऐसी अभी तक सिर्फ नक्सली और आतंकवाद प्रभावित क्षेत्रों में देखने सुनने मिली हैं।
सूत्रों का कहना है कि आरोन क्षेत्र के जंगलों में अक्सर शिकारियों की आना जाना होता है। ऐसे ही शिकार की सूचना पर आरोन थाना पुलिस शिकारियों को पकड़ने पहुंची थी। पुलिस को कल्पना नहीं थी कि बदमाश उन पर सीधी गोली चला देंगे। जैसे ही बाइक सवार बदमाशों का पुलिस से आमना सामना हुआ गोलियों की तड़तड़ाहट भी शुरू हो गई। जब यह गोलीबारी बंद हुई तब वहां पुलिस कर्मियों के शव बिखरे पड़े थे जबकि अपराधी/शिकारी भाग चुके थे।
जानकारो से खबर मिली है कि आरोन थाने से 15 किमी दूर सगा बरखेड़ा रोड पर हुई इस मुठभेड़ के घटनास्थल से बदमाशों द्वारा चलाई गई 12 बोर की बंदूक से चले हुए खाली 07 राउंड मिले हैं, और एक जिंदा राउंड भी मिला है। वहीं सब इंस्पेक्टर द्वारा चलाई गई 9MM की पिस्टल से 10 राउंड चले हुए घटनास्थल पर मिले हैं। इंस्पेक्टर की पिस्टल भी शव के पास पड़ी हुई मिली है। घटनास्थल के पास ही आरक्षक, प्रधान आरक्षक और सब इंस्पेक्टर के शव पाए गए हैं।
घटनाक्रम जिस जगह पर हुआ वहीं पास में बदमाशों द्वारा छोड़े गए 5 हिरण भी मृत अवस्था में बोरे में बंद मिले हैं। जिसमें कुछ हिरणों के धड़ कुछ बोरे में और कुछ हिरण के सिंग सहित सिर अलग – अलग बोरे में बंद मिले हैं। एक बोरे में मृत मोर भी पाया गया है।

3 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.