जनपथ न्यूज़  पटना. जल-जीवन-हरियाली यात्रा के चौथे दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गोपालगंज में सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने पॉर्न साइट्स की वजह से देश के युवाओं में आ रही मानसिक विकृति पर चिंता जताई।
नीतीश ने दैनिक भास्कर की खबर का हवाला देते हुए कहा कि पॉर्न साइट्स पर बैन लगना चाहिए। अखबार ने सांसदों और रिटायर्ड जजों के बीच अभियान चलाकर रेप की घटनाओं पर सजा और पॉर्न साइट्स पर बैन लगाने के संबंध में सवाल पूछा है। यह अच्छा अभियान है। मुझे पढ़कर खुशी हुई। हम भी इस दिशा में काम करेंगे। हमलोग केंद्र की सरकार को पत्र लिखेंगे और मांग करेंगे कि पॉर्न साइट्स पर बैन लगाया जाए। केंद्र पॉर्न पर बैन लगाए जिससे बिहार और देश के युवा उन गंदी चीजों को देख न सकें। इससे युवाओं पर गलत असर पड़ रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि टेक्नोलॉजी का लाभ भी है और नुकसान भी। कुछ लोग टेक्नोलॉजी का दुरुपयोग कर रहे हैं। वे गंदा काम करते हैं। पॉर्न साइट्स पर क्या चलता है? पता चला है कि लड़कियों के साथ हुए गलत काम का वीडियो पॉर्न साइट्स पर लोड कर देते हैं। इससे युवाओं की मानसिकता बिगड़ती है। हमलोग बच्चों को बताएंगे कि इस तरह की गंदी चीजें नहीं देखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.