जनपथ न्यूज डेस्क
Edited by: राकेश कुमार
मई 29, 2022
बिहार लोक सेवा आयोग की 67वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा के प्रश्न पत्र वायरल होने के मामले में आर्थिक अपराध इकाई ने अररिया के भरगामा अंचल के राजस्व पदाधिकारी राहुल कुमार को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। मामले की जांच एवं अनुसंधान ईओयू के तहत गठित विशेष अनुसंधान दल द्वारा किया जा रहा है।
ईओयू से मिली जानकारी के अनुसार राहुल कुमार कांड के मुख्य सरगना आनंद गौरव उर्फ पिंटू यादव से बराबर संपर्क में रहा है। वह इस कांड में बीपीएससी पीटी के प्रश्नपत्र की मांग घटना से पूर्व एवं घटना के दिन भी पिंटू यादव से कर रहा था। इस कांड के अभियुक्त संजय कुमार से घटना के दिन एवं इसके पूर्व इनसे कई बार बातचीत हुई है। बीपीएससी परीक्षा से पूर्व प्रश्नपत्र एवं उत्तर इन्हें भेजा गया है। जानकारी के अनुसार प्रतियोगिता परीक्षाओं में सेटिंग करने वाले अभियुक्तों एवं संदिग्धों के साथ इनका साठगांठ है। राहुल द्वारा किए गए संदिग्ध भुगतान का भी पता चला है। उसके द्वारा भरगामा मोड़, रानीगंज, अररिया स्थित आवास पर भी छापेमारी कर दस्तावेज बरामद किए गए हैं। ईओयू द्वारा इस कांड से जुड़े अन्य तथ्यों को भी खंगाला जा रहा है।
आपको बता दे कि बीपीएससी प्रश्न पत्र लीक मामले में अबतक नौ व्यक्तियों की गिरफ्तारी की जा चुकी है। राहुल कुमार की गिरफ्तारी के पूर्व 8 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

11 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.