जनपथ न्यूज़ पटना NRC को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने यह साफ कर दिया है कि इसे देश भर में लागू किया जाएगा. एनआरसी को लेकर अमित शाह का ऐलान विरोधियों के साथ-साथ सहयोगियों को भी हजम नहीं हो रहा है. जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने शाह के इस ऐलान पर पलटवार किया था लेकिन अब बीजेपी ने दो टूक कह दिया है कि उसे एनआरसी के मुद्दे पर उसे किसी की सलाह की जरूरत नहीं है. बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा है कि एनआरसी को लेकर बीजेपी का स्टैंड सबको पता है. शाहनवाज ने कहा है कि जिन्होंने हमारे साथ गठबंधन किया उन्हें भी मालूम है कि बीजेपी देश में एनआरसी लागू करेगी. ऐसे में हमें किसी से सलाह मशवरा करने की कोई जरूरत नहीं हैं. शाहनवाज के इस बयान को नीतीश कुमार के लिए क्लियर मैसेज माना जा रहा है.

अपने देश के गरीबों की करें चिंता
शाहनवाज ने कहा कि बांग्लादेशी घुसपैठियों को भारत से बाहर जाना चाहिए. इस पर तो हर भारत से मोहब्बत करने वाले इसके पक्ष में होंगे. अपने देश के गरीबों कि चिंता करनी चाहिए. बांग्लादेशी अपने मुल्क से मोहब्बत करें. हम अपने मुल्क से करें.
जदयू की हर विचारों से जरूरी नहीं की हम सहमत हो
शाहनवाज ने कहा कि बिहार के अंदर जदयू से गठबंधन हैं. संबंध अच्छे हैं. नीतीश कुमार के नेतृत्व में विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे. लेकिन जदयू अलग पार्टी है. उनका निशाना, उनके नेता, उनका विचार और संविधान अलग है. गठबंधन का मतलब यह नहीं है कि वह वह मेरे सारे विचारों से सहमत हो या जदयू के विचारों से बीजेपी सहमत हो यह जरूरी नहीं है.

प्रशांत किशोर ने किया था विरोध

बुधवार को जेडीयू उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने अमित शाह को दो टूक कह दिया था कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं होगा.  पीके ने कहा था कि 15 राज्यों मैं गैर बीजेपी मुख्यमंत्री हैं और इन राज्यों की आबादी देश की जनसंख्या का लगभग 55 फ़ीसदी है ऐसे में इन राज्यों की राय एनआरसी पर काफी अहमियत रखती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.