जानें किसके पास सबसे ज्यादा पैसा

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना/भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
3 जनवरी 2023

नया साल शुरू होने से कुछ देर पहले ही बिहार के मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री और राज्य के 29 मंत्रियों की संपत्ति का विवरण बिहार सरकार की ओर से सार्वजनिक किया गया था। इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से करीब सात गुणा अमीर उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव दिखे। नीतीश ने संपत्ति में कार दिखाई है, जबकि तेजस्वी के पास यह नहीं है। जारी किए गए आंकड़ों में सबसे अमीर राजस्व मंत्री आलोक कुमार मेहता हैं, जिनकी संपत्ति 25.32 करोड़ है। तेजस्वी यादव की संपत्ति 5.27 करोड़, जबकि उनके बड़े भाई और वन-पर्यावरण मंत्री तेज प्रताप की संपत्ति 3.25 करोड़ है। नीतीश की कुल 75.53 लाख की संपत्ति में अचल 58.85 लाख है, जबकि तेजस्वी की अचल संपत्ति 3.93 करोड़ और तेज प्रताप की 1.76 करोड़ है। तेज प्रताप की चल संपत्ति ही 1.49 करोड़ है।

राजस्व मंत्री सबसे धनी, एक मंत्री तो अचल संपत्ति दिखाए बगैर दूसरे नंबर पर : मंत्रियों की सार्वजनिक की गई सूची में सबसे धनी राजस्व मंत्री आलोक कुमार मेहता हैं। मेहता के पास कुल संपत्ति 25.32 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति ही 24.32 करोड़ की है। इन्होंने पटना में चार करोड़ के प्लॉट की जानकारी दी है।

दूसरे नंबर पर उद्योग मंत्री समीर कुमार महासेठ हैं और वह भी सिर्फ 16.19 करोड़ की चल संपत्ति पर ही। इन्होंने अचल संपत्ति का जिक्र नहीं किया है। अपने पास दो गाड़ियां होने की जानकारी दी है। तीसरे नंबर पर जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा हैं,जिनकी कुल संपत्ति 15.54 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति ही 6.71 करोड़ है। इन्होंने अपने पास कार और पत्नी-बेटे के पास 700 ग्राम सोना होने की जानकारी दी।

बाकी करोड़पति मंत्रियों का धन भी जानना चाहिए:
खान भूतत्व मंत्री डॉ.रामानंद यादव की कुल संपत्ति 13.91 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 13 करोड़ है। इन्होंने अपने पास 380 ग्राम सोना होने की जानकारी दी है।

सहकारिता मंत्री सुरेंद्र प्रसाद यादव की कुल संपत्ति 11.38 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 9.46 करोड़ है। इन्होंने कई शहरों में आवासीय जमीन होने की जानकारी दी है।

कृषि मंत्री कुमार सर्वजीत की कुल संपत्ति 8.75 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 6.44 करोड़ है। इन्होंने होटल में निवेश की जानकारी दी है।

मद्य निषेध मंत्री सुनील कुमार की कुल संपत्ति 6.25 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 1.40 करोड़ है। इन्होंने पत्नी के पास गाड़ी और 40 लाख के गहने बताए हैं।

परिवहन मंत्री शीला कुमारी की कुल संपत्ति 6.10 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 5.70 करोड़ की है।

भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी की कुल संपत्ति 5.95 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 1.82 करोड़ ही है।

विज्ञान-प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित कुमार सिंह की कुल संपत्ति 5.78 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 4.36 करोड़ है। इन्होंने बताया है कि गुजरात और नोएडा में प्लॉट है।

कानून मंत्री शमीम अहमद की कुल संपत्ति 5.31 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 4.20 करोड़ है। इन्होंने खुद पर एक करोड़ का लोन भी दिखाया है।

कला-संस्कृति मंत्री जितेंद्र कुमार राय की कुल संपत्ति 4.62 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 3.95 करोड़ है।

एससी-एसटी कल्याण मंत्री संतोष कुमार सुमन की कुल संपत्ति 3.79 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 3.33 करोड़ है। इन्होंने अपने पास तीन गाड़ियां दिखाई हैं।

समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी की कुल संपत्ति 3.10 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 2.14 करोड़ है। इन्होंने 3 चारपहिया वाहन होने की जानकारी दी है।

ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र यादव की कुल संपत्ति 2.71 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 88 लाख ही है।

खाद्य उपभोक्ता मंत्री लेशी सिंह की कुल संपत्ति 2.40 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 1.27 करोड़ है। इन्होंने अपने पास 2 ट्रक होने की जानकारी दी है।

ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार की कुल संपत्ति 2.27 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 1.25 करोड़ है। इन्होंने अपने पास तीन गाड़ियां बताई हैं।

संसदीय कार्य मंत्री विजय चौधरी की कुल संपत्ति 2.20 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 1.40 करोड़ है।

लघु जल संसाधन मंत्री जयंत राज की कुल संपत्ति 1.92 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 1.13 करोड़ है। इन्होंने अपने पास पुरानी कार और बाइक की जानकारी दी है।

शिक्षा मंत्री प्रो.चंद्रशेखर की कुल संपत्ति 1.54 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 1.05 करोड़ है. इन्होंने अपने पास दो आलीशान गाड़ियों की जानकारी दी है।

पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अनीता देवी की कुल संपत्ति 1.24 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 1 करोड़ है।

आईटी मंत्री मो. इसराइल मंसूरी की कुल संपत्ति 1.15 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 74.78 लाख है।

पंचायती राज मंत्री मुरारी कुमार गौतम की कुल संपत्ति 1.09 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 47.50 लाख है। इन्होंने दो बड़ी गाड़ियां होने की जानकारी दी है।
मत्स्य संसाधन मंत्री मो. आफाक आलम की कुल संपत्ति 1.08 करोड़ है, जिसमें अचल संपत्ति 61.20 लाख है।

चार मंत्रियों ने खुद को लखपति घोषित किया है : अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मो.जमा खान की कुल संपत्ति 74.76 लाख है, जिसमें अचल संपत्ति 23 लाख है।

श्रम संसाधन मंत्री सुरेंद्र राम की कुल संपत्ति 79 लाख है, जिसमें अचल संपत्ति 42 लाख है।
आपदा प्रबंधन मंत्री शहनवाज ने 56.61 लाख की चल संपत्ति के साथ 17 जमीन का जिक्र किया है।

पीएचईडी मंत्री ललित कुमार यादव ने सिर्फ चल संपत्ति के रूप में 18.12 लाख का ही जिक्र किया है,अचल का नहीं।

 141 total views,  3 views today