*सुधरेगी शिक्षा व्यवस्था*

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना, भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
24 अगस्त 2022

भागलपुर : भागलपुर जिले के 318 सरकारी विद्यालयों में केंद्रीकृत रसोइघर से मध्याह्न भोजन की आपूर्ति की जायेगी। इन चयनित स्कूलों में रोजाना बनने वाले एमडीएम को बंद कर दिया जायेगा। इस प्रक्रिया से शिक्षकों को भी पठन पाठन के लिए समय मिलेगा।

*सैकड़ों स्कूलों में है एमडीएम की व्यवस्था*
इस समय भागलपुर जिले के नवगछिया, कहलगांव व भागलपुर नगर निगम क्षेत्र के सैकड़ों स्कूलों में केंद्रीकृत रसोइघर से रोजाना एमडीएम की सप्लाई की जा रही है। जिन स्कूलों में एमडीएम बनाया जाता है, ऐसे स्कूलों की सूची बिहार राज्य मध्याह्न भोजन योजना समिति को भेजी गयी थी, जिसे पीएम पोषण योजना पटना के निदेशक ने स्वीकृति दे दी। केंद्रीकृत रसोइघर से जुड़े नये विद्यालयों में एमडीएम आपूर्ति के निरीक्षण की जिम्मेदारी डीपीओ पीएम पोषण योजना को दी गई है।

*योजना को स्वीकृति दो साल पहले मिली थी*
बताते चले कि इस योजना को स्वीकृति दो साल पहले मिली थी, लेकिन लॉकडाउन के कारण स्कूलों में मिड डे मील को बंद कर दिया गया था। योजना की शुरुआत के बाद केंद्रीकृत रसोइघरों पर अतिरिक्त विद्यालयों में भोजन वितरण की जिम्मेदारी दी गयी। बता दें कि भागलपुर नगर निगम क्षेत्र व इससे सटे इलाकों में भोजन वितरण की जिम्मेदारी स्वंयसेवी संस्था बाल विकास सेवा संस्थान को दी गयी है। बीते कई वर्षों से जीरोमाइल स्थित केंद्रीकृत रसोइघर से नगर निगम, सबौर व नाथनगर के विद्यालय में भोजन की आपूर्ति की जा रही है।

2 Views