• जनपथ न्यूज डेस्क

Reported by: गौतम सुमन गर्जना, भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
3 सितंबर 2022

भागलपुर : जिले के तीन अलग-अलग घटनाओं में पिछले 24 घंटे में 4 लोगों की मौत डूबने से हो गई। तीनों ही घटनाओं में पुलिस ने शव निकाले जाने के बाद परिजनों का फर्द बयान दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

*सबौर में बाढ़ के पानी में डूबने से मौत*
पहली घटना सबौर थाना क्षेत्र के राजपुर गांव की है। जहां गुरुवार की शाम करीब 3:30 बजे गांव में घुसे गंगा के पानी में डूबने से 13 वर्षीय बालक की मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि बच्चे के डूबने के बाद उन लोगों ने मदद के लिए पुलिस प्रशासन और ब्लॉक में प्रतिनियुक्त एसडीआरएफ की टीम से काफी मिन्नतें की लेकिन उन लोगों ने एक नहीं सुनी। बच्चे के डूबने के 3 घंटे बाद एसडीआरएफ की टीम और पुलिस मौके पर पहुंची और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया।
आधे घंटे में बच्चे के शव को निकाला गया और पुलिस शव को थाना ले कर चली गई। जहां से शुक्रवार सुबह उन्हें सीधे पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया गया। पोस्टमार्टम हाउस पहुंचने के बाद उन्हें बताया गया कि शव का कोरोना टेस्ट कराया जाना है, जिसके बाद वे लोग फिर से शव लेकर मायागंज अस्पताल गए। कोरोना जांच कराने के बाद जब वे लोग पोस्टमार्टम कराने पहुंचे तो वहां डॉक्टर नहीं पहुंचे थे, जिसके बाद उन्हें काफी इंतजार करना पड़ा।

*राघोपुर पंचायत के माधवपुर में बाढ़ के पानी में डूबने से मौत*
दूसरी घटना नाथनगर थाना क्षेत्र के राघोपुर पंचायत स्थित माधवपुर गांव की है। वहीं के रहने वाले 66 वर्षीय राजू मंडल शुक्रवार की सुबह शौच के लिए बहियार गए थे। शौच करने के दौरान ही अचानक उनका पैर बाढ़ के पानी में फिसल गया और वह डूब गए। यह घटना शुक्रवार सुबह करीब 5:00 बजे की बताई जा रही है। काफी मशक्कत के बाद ग्रामीणों की मदद से 7:00 बजे राजू मंडल के शव को पानी से निकाला गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

*साहिबगंज मोहल्ले में बाढ़ के पानी में फिसलने से मौत*
वहीं, तीसरी घटना भागलपुर के विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र स्थित साहिबगंज मोहल्ले में फकीर कुमार लेन की है। मोहल्ले के बगल में सड़क किनारे बाढ़ का पानी घुस गया है। शुक्रवार की सुबह शैर करने के लिए सड़क पर गया, जहां 18 वर्षीय इंटर का छात्र बादल कुमार का पैर अचानक बाढ़ के पानी में फिसल गया, जिसकी वजह से वह डूब गया। जब तक लोग उसे बचा पाते, तब तक वह डूब चुका था। करीब 2 घंटे की मशक्कत के बाद बादल के शव को ग्रामीणों की मदद से पानी से बाहर निकाला गया। जिसके बाद विश्वविद्यालय पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए नौलक्खा कोठी स्थित जेएलएनएमसीएच भेज दिया।

*जोगसर में कपड़ा साफ करने के दौरान महिला की मौत*
चौथी घटना घटना भागलपुर के जोगसर थाना क्षेत्र के दीपनगर काली ठाकुर लेन की है। शुक्रवार को बाढ़ के पानी में एक महिला कपड़ा साफ करने के दौरान पानी में डूब गई। मृतका की पहचान रेखा देवी पति मुन्ना राय के रूप में हुई है। जो दीपनगर काली ठाकुर लेन की रहने वाली बतायी जा रही है।

3 Views