जनपथ न्यूज़ भागलपुर. जीरोमाइल के फतेहपुर में गुरुवार को एक प्रेम-प्रसंग के मामले को सुलझाने में पुलिस के पसीने छूट गए। दोनों पक्षों के लोगों के थाना पर बवाल करने के बाद थानेदार को मदद के लिए महिला थानाध्यक्ष और हेल्पलाइन की महिला अधिकारी को भी बुलाना पड़ा।
दोनों के नाबालिग होने के बावजूद पुलिस मध्यस्थता से इनकार करती रही। शाम को अंधेरा होने पर जब बवाल करने वाले दोनों पक्ष के लोग चले गए तब पुलिस ने प्रेमी-प्रेमिका को थाना से बाहर किया। इसके बाद दोनों ने अजगैबीनाथ मंदिर पहुंच शादी कर ली। बता दें, प्रेमी ऑटो ड्राइवर है और प्रेमिका बीए की छात्रा है।
थाने में लड़की ने पुलिस को बताया कि वह करीब नौ साल से युवक से प्रेम करती है। जब वह स्कूल में पढ़ती थी तभी से दोनों एक-दूसरे को चाहते हैं। उसकी मंगनी मुंबई में मोबाइल शॉप चलाने वाले युवक से हुई है। वह उस लड़के को पसंद नहीं करती। इसलिए वह उसके साथ शादी नहीं करना चाहती है। जिस लड़के से वह प्रेम करती है, उससे घरवाले शादी नहीं करने दे रहे हैं। घरवाले विरोध कर रहे हैं।
लड़की ने बताया, गुरुवार को वह लड़के के घर गई और उससे शादी की इच्छा जताई, मगर उसके घरवाले ने इनकार कर दिया। इस पर मैंने लड़के से कह दिया, शादी नहीं होगी तो जहर खा लूंगी। यह सुनकर प्रेमी डर गया और शादी के लिए वह तैयार हो गया। इस बात पर गांव में जब विरोध होने लगा तो हम लोग थाना आ गए।
इधर, जीरोमाइल थानाध्यक्ष रंजन कुमार ने बताया कि दोनों प्रेमी-प्रेमिका बालिग हैं। लड़की के परिजन शादी का विरोध कर रहे हैं। जबकि लड़के के परिजन शादी को राजी हैं। प्रेमी-प्रेमिका ने कहा कि हम लोग कोर्ट मैरिज करेंगे। ऐसे में पुलिस को क्या आपत्ति है।
वहीं, मामले की जानकारी मिलने पर महिला थानाध्यक्ष स्वयंप्रभा व हेल्पलाइन की महिला अधिकारी भी आईं और लड़की से बात की। लड़की शादी के लिए अड़ी है और लड़का भी राजी है। बाद में देर शाम लड़का-लड़की ने अजगैबीनाथ मंदिर में जाकर शादी कर ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.