जनपथ न्यूज़:- भागलपुर.  बाथ थाना क्षेत्र के कष्टिकरी गांव में नौ अप्रैल को किसान संजय पंजिकार उर्फ श्याम जी की हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा करने का दावा किया है। इस सिलसिले में गठित एसअाईटी ने मृतक की भाभी रूपा पंजिकार (पति अजय कुमार पंजिकार), मृतक के घर के जेसीबी के ड्राइवर राजीव कुमार चौधरी और शूटर फंटूश कुमार उर्फ बंटी सिंह को गिरफ्तार किया है।
एसएसपी आशीष भारती ने बताया कि मृतक की भाभी रूपा पंजिकार ने संजय पंजिकार की हत्या की पूरी साजिश रची थी और जेसीबी के ड्राइवर बांका के शंभुगंज के सहदेव गांव के राजीव चौधरी के जरिए मुंगेर के तारापुर के घोघाचक के शार्प शूटर बंटी को एक लाख में हत्या की सुपारी दी थी। सुपारी की रकम 30 हजार रुपए कैश दी गयी थी, जबकि 70 हजार का चेक दिया था। पुलिस ने उस चेक को बरामद कर लिया है।
एसएसपी का कहना है कि परिवारिक संपत्ति का बंटवारा नहीं होने का कारण संजय पंजिकार का भाभी से विवाद हुआ था। सारी संपत्ति की देखरेख और कर्ताधर्ता संजय पंजिकार ही था। जांच में यह भी पता चला है कि रूपा पंजिकार को सरेआम बाल पकड़ कर संजय ने बेइज्जत भी किया था। इसी का बदला लेने के कारण रूपा ने जेसीबी के ड्राइवर के जरिए शूटर बंटी सिंह से संपर्क किया और एक लाख में सुपारी देकर संजय की हत्या करा दी। पूछताछ ने तीनों आरोपियों ने वारदात में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। रूपा का कहना है कि उसे अपने देवर को मरवाने का तनिक भी मलाल नहीं है। मृतक शंभुगंज के कैथा गांव का रहने वाला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.