जनपथ न्यूज डेस्क, पटना
Edited by: राकेश कुमार
9 जून 2022
पटना: बिहार विधान परिषद चुनाव के लिए गुरुवार को एनडीए के सभी उम्मीदवारों ने नामांकन पर्चा दाखिल किया। इस दौरान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित एनडीए के कई नेता मौजूद रहे। बिहार एनडीए की ओर से बीजेपी कोटे से हरी सहनी और अनिल शर्मा ने अपना नामांकन किया। वहीं, जेडीयू के दो पुराने कार्यकर्ता रविंद्र प्रसाद सिंह और अफाक अहमद खां ने बिहार विधान परिषद के लिए अपना नामांकन पर्चा दाखिल किया।

बता दें कि आरजेडी के तीनों उम्मीदवारों ने पहले ही अफना नामांकन का पर्चा दाखिल कर दिया। पार्टी ने कारी सोहैब, मुन्नी रजक और अशोक पांडेय ने बिहार विधान परिषद चुनाव के लिए नामांकन पर्चा दाखिल किया है। आरजेडी ने युवा नेता कारी सोहैब, महिला प्रकोष्ठ की महासचिव मुन्नी देवी और अशोक कुमार पांडेय को अपना उम्मीदवार बनाया है। दलित महिला मुन्नी देवी के नाम का ऐलान कर आरजेडी ने सभी को चौंका दिया और साथ ही अपने तीनों उम्मीदवारों के जरिए ए टू जेड की पार्टी होने का संदेश भी दिया है।

बता दें कि 21 जून को बिहार विधान परिषद की सात सीटें खाली हो रही हैं और इसी को लेकर चुनाव होना है। 21 जून को जिनका कार्यकाल समाप्त हो रहा है उनमें कमर आलम, गुलाम रसूल, रणविजय कुमार सिंह, सीपी सिन्हा, अर्जुन सहनी, रोजिना नाजिश और पूर्व मंत्री अर्जुन सहनी शामिल हैं। इसके नामांकन की अंतिम तिथि नौ जून है। एमएलसी चुनाव के लिए 20 जून को वोटिंग होगी और उसी दिन मतगणना भी किया जाएगा।

3 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.