*स्थानीय पूजा समिति का आपस में झंझट होने पर उनका लाइसेंस रद्द कर उन पर होगा दर्ज होगा मुकदमा*

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना
Edited by: राकेश कुमार
30 सितंबर 2022

भागलपुर : जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन की अध्यक्षता में गुरुवार को जिला समाहरणालय स्थित समीक्षा भवन के सभागार में जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने श्री श्री 108 दुर्गा पूजा महासमिति समेत, स्थानीय पूजा समिति व शांति समिति सदस्यों को दुर्गा पूजा के अवसर पर विधि व्यवस्था संधारण हेतु की गई तैयारियों के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दुर्गा पूजा के सौहार्द और उल्लासपूर्ण वातावरण में आयोजन हेतु जिला प्रशासन हर हाल में कटिबद्ध है। असामाजिक तत्वों की सतत निगरानी एवं उनके विरुद्ध लगातार कार्रवाई की जा रही है,जिसमें और भी तेजी लाने का निर्देश दिया गया है।

इस मौके पर जिलाधिकारी सुब्रत सेन ने बताया कि डीजे का उपयोग पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। पूजा पंडालों में सीसीटीवी का अनिवार्य रूप से अधिस्थापन एवं इसका सतत कार्यशीलता संबंधित पूजा समितियों की जिम्मेवारी होगी। पूजा समिति पूजा पंडालों में अग्नि रोधक सामग्रियों की उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे। पूजा पंडालों में राजनीतिक आशय/बिद्वेशात्मक आशय का प्रचार-प्रसार नहीं किया जाना अनिवार्य एवं अपेक्षित होगा। जिला स्तरीय शांति समिति के साथ आयोजित बैठक में यह तथ्य उभरकर सामने आया कि सभी प्रतिमाओं का विसर्जन कार्य निर्धारित मार्ग के अनुसार 6 अक्टूबर को पूरा कर लिया जाएगा। बैठक में जिला स्तरीय शांति समिति सदस्यों से प्राप्त सुझावों के आलोक में संबंधित विभाग यथा विद्युत, बुडको, नगर निगम सहित अन्य विभागों को निर्धारित कार्यों के सम्यक निर्वहन हेतु निर्देशित किया गया है। प्रतिमा का विसर्जन एनजीटी के प्रावधानों के अनुसार कुत्रिम तालाब में किया जाएगा और इसके लिए आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। संवेदनशील स्थल चिन्हित है, आवश्यकतानुसार ऐसे चिन्हित स्थलों पर पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारी/पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। नियंत्रण कक्ष भी तीन पालियों में कार्यशील किया जाएगा। बैठक में वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा विधि व्यवस्था के संदर्भ में यथोचित दिशा निर्देश दिए गए। इस मौके पर डीएम सुब्रत कुमार सेन ने स्पष्ट रुप से चेतावनी देते हुए कहा कि स्थानीय पूजा समिति का आपस में विसर्जन के दौरान किसी भी तरह का विवाद या झंझट की शिकायत मिलने पर वैसे पूजा समिति का लाइसेंस रद्द कर उन पर एफआईआर दर्ज की जाएगी।

इस अवसर पर सदर अनुमंडल पदाधिकारी धनंजय कुमार, वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम, सिटी एसपी स्वर्ण प्रभात, एएसपी शुभम आर्या, अपर समाहर्ता,शहर के सभी थानाध्यक्ष सहित अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।वहीं, दुर्गा पुजा महासमिति के अध्यक्ष अभय कुमार उर्फ सोनू घोष, कार्यकारी अध्यक्ष कन्हैया यादव, महामंत्री जयनंदन आचार्या,संरक्षक भगवान यादव, माणिक पासवान, बब्बन साह,उमा घोष, श्वेता सिंह, श्वेता सुमन, रेणु सिंह, तरुण घोष, सत्यनारायण प्रसाद, प्रो०एजाज अली रोज, महबूब आलम, भोला मंडल, नाथनगर सार्वजनिक पूजा समिति के अध्यक्ष पप्पू यादव, महामंत्री देवाशीष बनर्जी, भवेश यादव, निजाहत अंसारी,नीलम देवी, अशोक राय, अशोक यादव, कुणाल सिंह, बिजय झा गांधी समेत दर्जनों लोगों ने अपने-अपने मोहल्ले, सड़क, गली व पूजा स्थलों की समस्याओं से मंचासीन प्रशासनिक पदाधिकारियों को अवगत कराया, जिनका निवारण करने हेतु डीएम सुब्रत कुमार सेन ने संबंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिया।

 99 total views,  3 views today