जनपथ न्यूज़ पटना :-  सीबीआई की पटना सिविल कोर्ट के विशेष न्यायाधीश में भागलपुर में अरबों रुपए के बहुचर्चित सृजन घोटाला के एक मामले में शुक्रवार को बैंक प्रबंधक को न्यायिक हिरासत में लेते हुए जेल भेज दिया। सीबीआई ने अदालत से जारी गिरफ्तारी वारंट के आधार पर भागलपुर स्थित इंडियन बैंक के तत्कालीन शाखा प्रबंधक देव शंकर मिश्रा को गिरफ्तार करने के बाद विशेष न्यायाधीश सत्येंद्र पांडेय की अदालत में पेश किया। जहां अदालत ने उसे न्यायिक हिरासत में लेने के बाद 6 अगस्त 2019 तक के लिए बेऊर जेल भेजे जाने का आदेश दिया। इस मामले में 20 जुलाई 2019 को अदालत ने अभियुक्त मिश्रा समेत 6 अभियुक्तों के खिलाफ गिरफ्तारी का गैर जमानतीय वारंट जारी किया था।
चार्जशीटेड 4 बैंककर्मी भी जल्द होंगे सलाखों के पीछे, सीबीआई ने कसा शिकंजा
सृजन घोटाले में चार्जशीटेड 10 बैंककर्मियों में 6 तो सलाखों के पीछे पहुंच गए। शेष 4 की तलाश जारी है। सीबीआई इन चार बैंककर्मियों को सरगर्मी से ढूंढ रही है। सीबीआई का कसता शिकंजा देख सृजन घोटालेबाजों के हाथ-पांव फूलते नजर आ रहे हैं। सीबीअाई ने फरवरी में चार्जशीट फाइल की थी। फिर जुलाई में सात पर गैर जमानती वारंट लिया था। सीबीआई टू के विशेष जज अजय कुमार श्रीवास्तव ने जिन अभियुक्तों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था, उसमें पूर्व डीडीसी प्रभात कुमार सिन्हा, एबीएम सुब्रत दास, देवशंकर मिश्रा, बीओबी के बीएम नवीन कुमार साहा, एबीएम संत कुमार सिन्हा व अमरेंद्र प्रसाद के नाम शामिल हैं। 2009 से लेकर 2017 तक भागलपुर के इंडियन बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा में पदस्थापित होने वाले मैनेजर स्तर के दस अधिकारियों का घोटाले में नाम आया था।
सीबीआई ने जांच के बाद 10 पर की थी चार्जशीट
सीबीआई ने इन दस बैंकरों को जांच में दोषी पाया था और सभी के विरुद्ध चार्जशीट फाइल किया था। दस में छह बैंक कर्मियों को सीबीआई और एसआईटी ने मिलकर गिरफ्तार किया था। जिला परिषद में कुल 90 करो़ड़ का घपला उजागर हुआ था। मुख्यमंत्री ग्रामोदय योजना, पिछड़ा क्षेत्र ग्रांट स्कीम और 13वें व 14वें वित्त आयोग की 90 करोड़ की राशि बैंक ऑफ इंडिया और इंडियन बैंक के खाते से गायब हो गई थी। यह राशि सृजन महिला विकास सहयोग समिति को ट्रांसफर की गई थी। मामले में इंडियन बैंक, बीओबी की भागलपुर शाखा के तत्कालीन मैनेजर और सृजन के पदधारकों को आरोपी बनाया गया था।
ये हो चुके हैं गिरफ्तार
देव शंकर मिश्रा : तत्कालीन ब्रांच मैनेजर, इंडियन बैंक
राम कृष्ण झा : सहायक ब्रांच मैनेजर, इंडियन बैंक
वरुण कुमार : तत्कालीन सहायक ब्रांच मैनेजर, इंडियन बैंक
प्रवीण कुमार : तत्कालीन सहायक ब्रांच मैनेजर, इंडियन बैंक
अजय कुमार पांडेय : तत्कालीन लिपिक, इंडियन बैंक
अतुल रमण : मैनेजर, बैंक ऑफ बड़ौदा
इन पर जारी हुआ था वारंट
सुब्रत दास : तत्कालीन सहायक ब्रांच मैनेजर, इंडियन बैंक
नवीन कुमार साहा : सीनियर मैनेजर सह ब्रांच मैनेजर, बैंक ऑफ बड़ौदा
अमरेंद्र प्रसाद साहू : तत्कालीन सहायक ब्रांच मैनेजर, बैंक ऑफ बड़ौदा
संत कुमार सिन्हा : तत्कालीन लिपिक, बैंक ऑफ बड़ौदा

Leave a Reply

Your email address will not be published.