लाइटें खराब होने से अंधेरे में गड्‌ढों में गिरने से घायल हो रहे हैं बाइक

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना, भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
21 अगस्त 2022

भागलपुर : 4.7 किलोमीटर लंबे विक्रमशिला सेतु पर शनिवार को 53 गड्ढे देखने को मिले हैं, वहीं 30 खंभों में लगीं लाइटें खराब हो चुकी है। जिस कारणवश रात के अंधेरे में गड्ढे में गिरने से हादसे की आशंका रहती है। हाल के दिनों में कई बार इन गड्‌ढों में गिरकर बाइक सवार जख्मी हो चुके हैं। वहीं, पुल की सड़क किनारे पर बड़ी बजरी और टूटी रेलिंग भी मुसीबत का सबब बनी हुई है। छः जगहों पर पुल की रेलिंग टूटी हुई है। पुल की मरम्मत की जिम्मेदारी पहले पथ निर्माण विभाग और पुल निर्माण निगम की थी, लेकिन जून में इसका दायित्व एनएच के पास आ चुका है। अगर आप भागलपुर से नवगछिया जा रहे हैं तो 4.7 किमी लंबे विक्रमशिला सेतु को पार करने के लिये 53 गड्ढों से गुजरना होगा।

गड्ढे भी कोई छोटे नहीं हैं, ये वे गड्ढे हैं, जहां दो क्लेम्प आपस में जुड़ते हैं, इन गड्ढों में उन चेंबरों को भी शामिल किया गया है, जो धंस गये हैं। बता दे कि पिछले चार साल बाद भी सुधारा नहीं गया, आखिरी बार 2018 में विक्रमशिला सेतु की मरम्मत की गई थी। एनएच के कार्यपालक अभियंता अरविंद कुमार ने बताया कि सेतु के मेंटेनेंस के लिए 23 करोड़ से ज्यादा का इस्टीमेट तैयार कर भेजा गया है और मंजूरी मिलते ही काम शुरू करा दिया जायेगा। इसमें एप्रोच रोड व दो परतों का डामरीकरण होना है। सेतु पर 100 स्ट्रीट लाइटों को भी बदला जायेगा और टूटी रेलिंग को भी दुरुस्त किया जाना है। जो इस्टीमेट तैयार किया गया है, उसमें 14.02 किमी सड़क का भी कार्य शामिल है।

2 Views