न्यूज डेस्क/जनपथ न्यूज
Edited by: राकेश कुमार
मई 21, 2022
पटना: मुख्य सचिवालय के सभागार में पटना नगर निगम के सभी अंचलों, फुलवारीशरीफ नगर परिषद् और दानापुर नगर परिषद के अंतर्गत मानसून पूर्व तैयारी को लेकर बिहार के उपमुख्यमंत्री -सह- नगर विकास एवं आवास विभाग के मंत्री श्री तारकिशोर प्रसाद ने गहन समीक्षा की एवं आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 31 मई तक नमामि गंगे के अंतर्गत काटी गई सड़कों को हर हाल में मोटरेबल करते हुए पथ निर्माण विभाग को हैंडओवर करें, ताकि सड़कों का निर्माण किया जा सके। उन्होंने इसके लिए संबंधित एजेंसी को भी सख्त निर्देश देते हुए कहा कि नगर विकास एवं आवास विभाग के अधिकारी पथ निर्माण विभाग के अभियंताओं के साथ समन्वय स्थापित कर जैसे-जैसे सड़कें मोटरेबल होती जाएं, वैसे-वैसे हैंडओवर की भी कार्रवाई करें और इसे अविलंब कार्य रूप देना सुनिश्चित करें।
उन्होंने कहा कि दानापुर में जल-जमाव से मुक्ति हेतु नाला निर्माण के लिए लगभग 120 करोड़ रुपए लागत की योजना की तकनीकी स्वीकृति हेतु कार्यवाही चल रही है। उन्होंने कहा कि बिहार सरकार मानसून के दौरान लोगों को जल-जमाव से मुक्ति हेतु प्रतिबद्ध है एवं इसके लिए शहरी निकाय के स्तर पर नियमित मॉनिटरिंग की जा रही है।
बैठक के दौरान फुलवारीशरीफ के विधायक एवं नगर परिषद् के मुख्य पार्षद ने नया टोला में विभिन्न विभागीय समन्वय के अभाव में पानी के रिसाव के कारण हो रहे जल-जमाव के निराकरण, संप हाउस के निर्माण का अनुरोध किया। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि फुलवारीशरीफ नगर परिषद् के अंतर्गत जल-जमाव से मुक्ति हेतु लगभग 70 करोड़ लागत राशि का डीपीआर बना है, जिसकी अग्रेतर कार्रवाई की जा रही है। साथ ही, बादशाही नाला के समस्या के निदान हेतु भी कार्रवाई होगी।
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आज की बैठक काफी सकारात्मक रही है। उन्होंने अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि 31 मई तक के निर्धारित निर्देशों और आज की बैठक में प्राप्त महत्वपूर्ण सुझावों का हर हाल में अनुपालन सुनिश्चित कराएं, अन्यथा दोषी पदाधिकारियों को चिन्हि्त करते हुए कड़ी कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ संयुक्त समीक्षा बैठक होने से इलाके की धरातलीय स्थिति को जानने एवं कठिनाइयों का निदान सुगमता से होता है। पिछली बार 2021 के मानसून अवधि में विभागीय अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के संयुक्त समन्वय से जल-जमाव की स्थिति से निपटने में हम सभी कामयाब हुए थे। उन्होंने कहा कि आगामी मानसून की चुनौतियों को सहयोग एवं सामूहिक भागीदारी से हम लोग निपटेंगे। उन्होंने कहा कि विभागीय पदाधिकारी संवेदनशीलता और तत्परता के साथ काम करें ताकि आम नागरिकों को शहरी जन-जीवन में कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़े। आज की बैठक में दिए गए निर्देशों के अनुपालन स्थिति की पुनः समीक्षा 15 दिन के बाद जून के प्रथम सप्ताह में होगी।
बैठक के दौरान पटना साहिब के सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद ने संप हाउसों की समुचित मॉनिटरिंग, संप चालकों के मोबाइल नंबर के विस्तृत प्रचार-प्रसार तथा नमामि गंगे के अंतर्गत काटी गई सड़कों की मरम्मति के कार्य तेज करने की आवश्यकता बतायी। उन्होंने कहा कि सैदपुर नाला को ढ़ककर सड़क निर्माण करने तथा कंकड़बाग में लगभग 1200 मेन हॉल की सफाई में तेजी लाने की जरूरत है। संबंधित कार्यपालक पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि प्रत्येक दिन 250-300 मेनहोल की सफाई की जा रही है। 31 मई तक इसे हर हाल में पूरा कर लिया जाएगा। पटना साहिब के विधायक एवं पूर्व मंत्री श्री नंदकिशोर यादव ने गुरु गोविंद सिंह पथ के समानांतर नाला के टूटने के कारण हो रही दुर्घटनाओं को कम करने हेतु आवश्यक पहल करने तथा पथ निर्माण विभाग एवं नगर निगम के अभियंताओं के संयुक्त समन्वय के साथ काम करने की आवश्यकता बतायी।
पथ निर्माण मंत्री श्री नितिन नवीन ने कहा कि आदर्श नगर में जल-जमाव की समस्या के निदान की व्यवस्था जरूरी है और साथ ही, सिपारा जल निकासी की पूर्ण योजना को अविलंब क्रियाशील करने को कहा। बैठक के दौरान कुम्हरार, दीघा, फुलवारीशरीफ एवं दानापुर के विधायकों ने भी स्थानीय समस्याओं के विषय में अवगत कराया।
बैठक के दौरान पथ निर्माण मंत्री श्री नितिन नवीन, पटना साहिब के सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद, दीघा के विधायक श्री संजीव चौरसिया वर्चुअल रुप से जुड़े रहे। इस मौके पर पटना साहिब के विधायक एवं पूर्व मंत्री श्री नंदकिशोर यादव, कुम्हरार के विधायक श्री अरुण कुमार सिन्हा, विधायक श्री गोपाल रविदास, विधायक श्री रीतलाल राय, पटना नगर निगम की महापौर श्रीमती सीता साहू, दानापुर नगर परिषद् की मुख्य पार्षद डॉ० अनु कुमारी, फुलवारीशरीफ के मुख्य पार्षद् मो० आफताब आलम, नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव श्री आनंद किशोर, पटना के प्रमंडलीय आयुक्त श्री कुमार रवि, बुडको के प्रबंध निदेशक श्री धर्मेंद्र सिंह, पटना के जिला पदाधिकारी श्री चंद्रशेखर सिंह, पटना नगर निगम के नगर आयुक्त श्री अनिमेष पराशर, अपर नगर आयुक्त श्रीमती शीला ईरानी, सभी अंचलों के कार्यपालक पदाधिकारीगण, मुख्य अभियंता, कार्यपालक अभियंता सहित अन्य वरीय विभागीय पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

4 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.