तेजप्रताप यादव ने जगदानंद सिंह और संजय यादव पर बोला हमला, जगदानंद सिंह शिशुपाल तो संजय यादव दुर्योधन की भूमिका में

राकेश कुमार, जनपथ न्यूज
अगस्त 21, 2021

आरजेडी में मचा घमासान जारी है। शुक्रवार को एक बार फिर से तेजप्रताप यादव ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर हमला बोला। तेजप्रताप ने कहा कि जगदानंद सिंह राजद में महाभारत के शिशुपाल और संजय यादव दुर्योधन की भूमिका में हैं। तेजप्रताप ने आगे कहा कि संजय यादव ने मुझे बदनाम करने के लिए सोशल मीडिया में ग्रुप बनवाया है।

वहीं पहली बार तेजप्रताप ने अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव को भी आड़े हाथ लेते हुए कहा कि नेता प्रतिपक्ष को बाढ़ से परेशान जनता की सेवा के लिए बिहार में रहना चाहिए। लेकिन संजय यादव उन्हें लेकर दिल्ली चले गए। गौरतलब है कि शुक्रवार की शाम तेजस्वी यादव दिल्ली रवाना हो गए।

माना जा रहा है कि तेजप्रताप और जगदानंद सिंह के बीच जारी जुबानी जंग को लेकर तेजस्वी लालू यादव से बातचीत करेंगे। दिल्ली रवाना होने से पहले पत्रकारों ने जब तेजस्वी यादव से सवाल किया गया कि क्या तेजप्रताप यादव मुलाकात के लिए आए थे तो उन्होंने कहा कि उनसे मुलाकात हुई है। लेकिन जिस समय वे मुलाकात के लिए आए थे उसी समय विपक्षी दलों की साझा बैठक शुरू हो गई थी।

तेजप्रताप पर कार्रवाई का अधिकार राष्ट्रीय अध्यक्ष को: जगदानंद
वहीं प्रदेश राजद अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कहा कि तेजप्रताप की हर गतिविधि पर राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव की नजर है। पत्रकारों के पूछने पर कि तेजप्रताप ने आप पर कार्रवाई की मांग की है तो इस पर जगदानंद ने कहा कि यह अधिकार राष्ट्रीय अध्यक्ष को है। क्या आप तेजप्रताप पर कार्रवाई करेंगे, इस पर जगदानंद ने कहा कि वो विधायक हैं। उन पर कार्रवाई का अधिकार सिर्फ राष्ट्रीय अध्यक्ष को है। तेजप्रताप के आरोप को लेकर पूछे गए सवाल पर जगदानंद ने कहा कि वह यह भूल जाते हैं कि कोर कमेटी को नियुक्ति का अधिकार नहीं है। जब तक आप पर कार्रवाई नहीं होती तेजप्रताप पार्टी के कार्यक्रम में नही आएंगे, इस सवाल पर जगदानंद ने कहा कि पार्टी के कार्यक्रम में किसको बुलाना है या किसको नहीं बुलाना है ये मेरा काम है। तेजप्रताप ने आपके बेटे पर पार्टी के खिलाफ काम करने की बात कही है, इस पर जगदानंद ने कहा कि अगर किया है तो शिकायत करें, तुरंत कार्रवाई होगी।

5 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.