जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना
Edited by: राकेश कुमार
www.janpathnews.com
6 दिसंबर 2022

भागलपुर : भागलपुर जिले में शनिवार की शाम पीरपैंती बाज़ार में महिला को तेज धारदार हथियार से क्षत-विक्षत करने के मामले में वांछित दोनों अभियुक्तों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दोनों रिश्ते में भाई हैं। उनके नाम शकील और जुद्दीन हैं।

दोनों अभियक्तों ने छोटी दिलौरी निवासी 42 वर्षीय नीलम देवी के शरीर पर धारदार हथियार से 16 वार किये थे, जिसमें उनके दोनों स्तन शरीर से अलग हो गए थे। दोनों हाथ, कान, पीठ और गले पर भी गंभीर वार किये गए थे। घायल नीलम देवी को पीरपैंती रेफरल अस्पताल में प्राथमिक उपचार देने के बाद मायागंज अस्पताल भागलपुर रेफर कर दिया गया था, जहां उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई थी।
मृतिका नीलम देवी के पति अशोक यादव की शिकायत पर इस अमानवीय हत्या कांड को अंजाम देने वाले शकील और उसके भाई जुद्दीन के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया गया था।

अपराध की गंभीरता को देखते हुए पुलिस द्वारा दोनों अभियुक्तों की गिरफ्तारी की जा चुकी है। इस मामले को लेकर प्रेस वार्ता करते हुए भागलपुर के सिटी एसपी स्वर्ण प्रभात ने बताया कि हत्या की वजह पैसे से जुड़ा विवाद था।

शकील की मृतिका और उसके परिवार से घनिष्ठता थी। शकील ने कुछ वर्ष पहले मृतिका को बेटी की शादी के लिए लाखों रुपये दिए थे, कुछ पैसे मृतिका द्वारा लौटाए गए थे। शकील बाकी के पैसे लौटाने के लिए मृतिका पर लगातार दबाव बना रहा था। इसको लेकर उनके बीच करीब एक महीने पूर्व झगड़ा भी हुआ था और तभी से शकील उससे बदला लेने के फिराक में था। सिटी एसपी ने कहा कि शनिवार की शाम को मौका मिलते ही दोनों अभियुक्तों ने मिलकर घटना को अंजाम दिया।

बहरहाल, इस घटना के पीछे अवैध सम्बन्ध की भी बात सामने आ रही है लेकिन पुलिस इस बारे में कुछ भी बोलने से कतरा रही है। इस बारे में पूछे जाने पर सिटी एसपी ने कहा कि दोनों अभियुक्तों से पूछताछ की जा रही है और अभी तक इस तरह की कोई जानकारी पुलिस के सामने नहीं आई है।

उन्होंने लोगों से इस मामले को लेकर किसी भी तरह के अफवाह पर ध्यान नहीं देने की अपील की है। उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर सांप्रदायिक तनाव की बातें कोरी अफवाह हैं। हालांकि, एहतियात के तौर पर इलाके में पुलिस बल की तैनाती की गई है। उन्होंने बताया कि दोनों ही अभियुक्तों को न्यायायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

 402 total views,  3 views today