,जनपथ न्यूज डेस्क, सहरसा
रिपोर्ट: विकास कुमार, सहरसा
अप्रैल 18, 2022
सहरसा, 18 अप्रैल। सरकार द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर देश के सभी प्रखंडों में स्वास्थ्य मेले के आयोजन करने का निर्णय लिया गया है। जिसके आलोक में जिले में भी 18 से 22 अप्रैल तक प्रखंडस्तरीय स्वास्थ्य मेले का अयोजन किया जा रहा है। जिले के महिषी प्रखंड में स्थानीय विधायक गुंजेश्वर साह के द्वारा फीता काटकर स्वास्थ्य मेले का उद्धाटन किया गया। इस मौके पर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, डा. रामाधार सिंह, जिला स्वास्थ्य समिति के जिला कार्यक्रम प्रबंधक विनय रंजन, प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक अफजल हुसैन, प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरक अभिषेक कुमार, आंख, कान, दांत सहित कई विशेषज्ञ चिकित्सक, लैब टेक्नीशियन, स्वास्थ्य कर्मी एवं प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कर्मी मौजूद रहे।
गरीबों तक पहुँचे स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ-
प्रखंड स्तरीय स्वास्थ्य मेले का उद्घाटन करते हुए विधायक गुंजेश्वर साह ने कहा हम लोगों का कर्त्तव्य बनता है कि गरीबों तक स्वास्थ्य सुविधाओं की पहुँच बनायें। स्वास्थ्य विभाग की यह नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि सरकार द्वारा चलायी जा रही स्वास्थ्य संबंधी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम पंक्ति में बैठे लोगों तक पहुँचायें। तभी हम एक स्वस्थ्य समाज की परिकल्पना कर सकते हैं। एक स्वस्थ्य समाज की समृद्ध राष्ट्र का निर्माण कर सकता है। इसके लिए स्वास्थ्य हमारी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए। जन-जन तक सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं तक स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ पहुँच सके। इसके लिए इस प्रकार के मेले का आयोजन सरकार द्वारा समय-समय पर कराया जाता है। आजादी के 75वीं वर्षगांठ, अमृत महोत्सव पर सरकार द्वारा देश के सभी प्रखंडों में स्वास्थ्य मेले का अयोजन किया जाना सराहनीय कदम है।
सपरिवार मेले में आकर उठायें लाभ-
प्रखंड स्वास्थ्य मेले के उद्घाटन समारोह में पहुँच जिला स्वास्थ्य समिति के जिला कार्यक्रम प्रबंध विनय रंजन ने स्वास्थ्य मेले के आयोजन की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर जिले के सभी प्रखंडों में स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जाना है। इस संबंध में जिले के भी प्रखंडों से समन्वय स्थापित करते हुए विभिन्न तिथियों को स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जाना है। इस मेले में आये सभी लोगों को आभा कार्ड भी प्रदान किया जाना है। जिसका लाभ उन्हें भविष्य में अपने स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं का लाभ लेने में मिल सकेगा। स्वास्थ्य मेले में आयुष्मान भारत गोल्ड कार्ड बनाने के भी दिशा-निर्देश सरकार द्वारा दिये गये हैं। वहीं इस मेले में मोतियाबिंद पंजीकरण की भी व्यवस्था रहेगी। इस प्रकार के स्वास्थ्य मेले में अधिक से अधिक लोग आयें। इसके लिए व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार के साधनों का भी उपयोग किया जा रहा है। इन स्वास्थ्य मेलों में स्वास्थ्य शिक्षा और स्वस्थ जीवनशैली के साथ-साथ रोगों का शीघ्र पता लगाने और उपचार की सुविधा और जानकारी निःशुल्क उपलब्ध करायी जाएगी। यहाँ कई प्रकार के जांच सहित नैदानिक सेवाएं और विभिन्न बीमारियों के लिए विशेषज्ञ चिकित्सी परामर्श एक साथ उपलब्ध करायी जाएगी। आप सभी से विनम्र आग्रह है कि आप अपने परिवार सहित इन स्वास्थ्य मेलों में आएं और इसका लाभ उठायें।

2 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.