जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना
Edited by: राकेश कुमार
www. janpathnews.com
14 दिसंबर 2022

भागलपुर : जमीन विवाद में हाउसिंग बाेर्ड के मुसहरी घाट के पास साेमवार काे मारपीट मामले में अपने दाेस्त के पिता लाल बहादुर सिंह काे बचाने में शरद ने खुद गाेली खा ली। अब वह सिलीगुड़ी के एक निजी अस्पताल में जिंदगी और माैत से जूझ रहा है। फिलहाल डाॅक्टर उसे हाेश में लाने का प्रयास कर रहे हैं। रात 10 बजे ऑपरेशन की तैयारी चल रही थी। लाल बहादुर सिंह के साथ रहनेवाले विकास कुमार ने बताया कि शरद के इलाज में किसी तरह की कमी नहीं हाेने दी जाएगी। दरअसल, सुबह जब दूसरे पक्ष के लाेगाें ने गोलीबारी की ताे उस दाैरान लाल बहादुर सिंह बंदूक के रेंज में आ गए थे।

उन्हें हटाने के लिए जैसे ही शरद उनके आगे आया, गाेली शरद के सिर व जबड़े में लग गई। इसके बाद वहां भगदड़ मच गई। आसपास के लाेगाें ने भी अपने घर के दरवाजे व खिड़कियां बंद कर लीं। इस बीच लाल बहादुर सिंह समेत उनके परिवार के सदस्याें पर दूसरे पक्ष के लाेगाें ने लाठी-डंडे से हमला जारी रखा ताे तीन लोगों का हाथ टूट गया। किसी तरह भागकर उनलाेगाें ने अपनी जान बचाई।

लाल बहादुर सिंह के साथ गए एक व्यक्ति ने कहा कि जब मारपीट हाेने लगी ताे हम किसी तरह एक दीवार फांदकर दूसरे के घर घुस गए। वहां की महिलाओं ने बताया कि आप इस रास्ते से आगे कूदकर झाड़ी में छिप जाइए। इस पर उसने कहा कि नहीं झाड़ी में छिपना खतरे से खाली नहीं है। इसके बाद तीन लाेगाें के घर काे फांदते हुए दीवार से छलांग लगाकर मेन राेड पर आए ताे जान बची। इस बीच हाथ-पैर में कई जगह चाेटें आईं। घटना के बाद से वहां तनाव है और काेई इस संबंध में कुछ कहना नहीं चाह रहा है। लाल बहादुर अपने परिवार के साथ जीराेमाइल के पास गार्डन हाइट साेसाइटी में रहते हैं।

पहले चेताया, फिर की पिटाई : लाल बहादुर के बेटे वीर बहादुर सिंह ने बताया कि पापा ने 2014-15 में जमीन खरीदी थी। अब वहां पर 30 से 35 लाख रुपए कट्ठा जमीन की बिक्री की जाती है। उसका यह भी आराेप है कि पहले जदयू विधायक गाेपाल मंडल के बेटे ने फोन करके कहा कि यहां से निकल जाओ, अन्यथा ठीक नहीं हाेगा। इसके बाद ही वे लाेग आ गए और मारपीट शुरू कर दी।

पति-पत्नी दाेनाें लड़ चुके हैं चुनाव : लाल बहादुर सिंह एक बार बिहपुर से निर्दलीय विधानसभा चुनाव लड़े थे, जिसमें उनकी हार हुई थी। वहीं उनकी पत्नी माधुरी प्रसाद भी जिला परिषद का चुनाव में किस्मत आजमा चुकी है पर जीत नहीं सकी थी। लाल बहादुर की नजदीकी पूर्व सांसद बुलाे मंडल, वर्तमान सांसद अजय मंडल से भी है। वर्तमान सांसद मेरे मकान में ही रहते हैं पर हमने उनसे इसकी शिकायत नहीं की है। जमीन हड़पने के लिए काेई इस कदर बदल जाएगा, समझ नहीं पाए।

रोहित ने कहा- 48 घंटे में विधायक के पुत्र के खिलाफ एक्शन ले पुलिस, नहीं ताे करेंगे आंदाेलन : इधर जदयू विधायक गोपाल मंडल के पुत्र के होटल बिग डैडी परिसर में जमीन विवाद के दौरान गोलीबारी के घटना की भाजपा ने निंदा की है। जिला कार्यकारी अध्यक्ष संतोष कुमार ने कहा है कि गोपाल मंडल और उनके पुत्र ने जो घटना की है, वह निंदनीय है। विधायक सत्ता और प्रशासन के सहयोग से लगातार आपराधिक घटना को अंजाम दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि विधायक गोपाल मंडल के अलावा अब उनके पुत्र भी जमीन विवाद से जुड़ते जा रहे हैं।

दूसरों की जमीन को कब्जा करना और भय दिखा कर संपत्ति अर्जित करने का कार्य लगातार विधायक और उनके सहयोगी भी करते रहे हैं। संतोष कुमार ने कहा कि अगर 48 घंटे में विधायक और उनके पुत्र के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो भाजपा सड़क पर उतरेगी। जिला प्रशासन और राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलन करेगी। पार्टी का एक शिष्टमंडल जिला प्रशासन और राज्य सरकार से मिलकर इस संबंध में उन्हें जानकारी देगा। साथ ही पीड़ित पक्षों से मिलकर उनका पक्ष भी जानेगी। भागलपुर, बांका और नवगछिया में जमीन विवाद में विधायक का नाम कई बार आया है। इसलिए विधायक के पुत्र को पुलिस जल्द गिरफ्तार करे।

 387 total views,  3 views today