जनपथ न्यूज़  कटिहार. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा, ‘अयोध्या में राम मंदिर स्थापना का तो मेरा काम पूरा हो गया। मेरे जैसे लोगों का अब राजनीति से अलविदा लेने का वक्त आ गया है, खासकर जनसंख्या नियंत्रण कानून और हो जाए तो मैं राजनीति से अपने आप को अलग कर लूंगा। वह कटिहार में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे।’
गिरीराज सिंह ने कहा- भारत जनसंख्या का भार अब सहने को तैयार नहीं है। न केवल देश में एनआरसी लागू होनी चाहिए बल्कि जनसंख्या नियंत्रण कानून भी आनी चाहिए और जिस दिन यह कानून आ गया वे राजनीति से संन्यास ले लेंगे। 1971 में इन्दिरा गांधी ने भी जनसंख्या को विस्फोटक बताया था, लेकिन कुछ करने की हिम्मत नहीं जुटा पाईं। अगर हिम्मत जुटातीं तो शायद आज न तो एनआरसी की बात आती और न ही जनसंख्या में इतनी वृद्धि होती। गिरीराज ने कहा कि भारत कोई धर्मशाला नहीं जो बाहरी लोगों, घुसपैठिये आदि को आश्रय दे।
जनता ने राफेल मुद्दे पर राहुल गांधी को नकार दिया
राफेल मुद्दे पर बोलते हुए गिरीराज ने कहा कि पहले लोकसभा के चुनाव में देश की जनता ने राफेल मुद्दे पर राहुल गांधी और कांग्रेस को नकारा और अब सुप्रीम कोर्ट ने भी इसे नकार दिया है। राफेल मामले में राहुल गांधी को देश से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपनी भाषा नहीं पाकिस्तान की भाषा बोलती है। कभी नेहरू ने संयुक्त राष्ट्रसंघ में कश्मीर मुद्दे पर विवादित बयान दिया था। जिसे पाकिस्तान ने हथियार बना लिया। पीओके भारत का अभिन्न अंग है। गिरीराज ने स्पष्ट कहा कि कश्मीर की समस्या के हल के बाद देश में एक राष्ट्र, एक विचार, एक निशान और एक झंडा भारतीयता को स्पष्ट करता है। पूरा कश्मीर हमारा है। गिरीराज ने कहा कि कांग्रेस पाकिस्तान की भाषा बोलना बंद करे।
अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश की बनी है अलग पहचान
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आज अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की अपनी एक अलग पहचान बनी है। नरेन्द्र मोदी और अमित साह ने कई मुद्दों पर भारत के मत को अन्तर्राष्ट्रीय मत के रूप में स्वीकार करने के लिए बाध्य किया है। नरेन्द्र मोदी और अमित साह की जोड़ी देश को सही दिशा की ओर ले जा रही है। उन्होंने स्पष्ट कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार ही बिहार में चेहरा होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.