जनपथ न्यूज डेस्क/पटना
Edited by: राकेश कुमार
www. janpathnews.com
21 दिसंबर 2022

पटनाः बिहार के नए डीजीपी आरएस भट्टी ने आज राज्य पुलिस मुख्यालय में अपनी पहली उच्च स्तरीय बैठक की। इस बैठक में सभी जिलों के एसएसपी, एसपी और रेल एसपी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ें। जबकि; आईजी, डीआईजी स्तर के अफसर बिहार पुलिस मुख्यालय में उपस्थित थे।

पुलिस मुख्यालय में उच्च स्तरीय बैठक में पुलिस कर्मियों को संबोधित करते हुए कहा: “बेवजह पुलिस किसी व्यक्ति पर लाठीचार्ज न करें। पुलिसकर्मियों को अनुशासन को लेकर रेगुलर ट्रेनिंग करवाने की जरूरत है। पुलिस कर्मियों की ट्रेनिंग अति आवश्यक है और इसके लिए जिलों से मास्टर ट्रेनर्स को भी बुलाया जाएगा। पुलिसकर्मियों की यूनिफार्म केंद्रीय पुलिस बल की जैसी होनी चाहिए ना कि जैसे-तैसे यूनिफॉर्म पहनकर ड्यूटी करना चालू कर दिया जाए। हर पुलिस लाइन में ट्रेनिंग की व्यवस्था शुरू की जाए ताकि पुलिस कर्मियों को समय पर ट्रेनिंग मिल सके।”

बिहार के नए डीजीपी आर एस भट्टी ने सभी जिले के एसपी को निर्देश दिया है कि थानेदारों से समन्वय स्थापित कर काम करें। छोटी-छोटी गलतियों पर उन्हें निलंबित करना कहीं से भी सही नहीं है, उनका भी परिवार है, इसलिए उसका भी ध्यान रखना है।

बिहार के नए डीजीपी आरएस भट्टी ने समीक्षा बैठक के दौरान सभी अपराधियों की सूची तैयार कर सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। साथ ही पुलिसकर्मियों को समन्वय स्थापित कर काम करने का आदेश दिया है। जिस जिले के थाने में ज्यादा अपराध की घटनाएं हो रही है, उनका निरीक्षण एसपी खुद जाकर करे। भट्टी ने सूबे के सभी जिलों के एसपी को कहा कि थानेदारों से समन्वय स्थापित कर काम करें और छोटी-छोटी गलतियों पर उन्हें निलंबित नहीं करे। उन्होंने कहा कि पुलिस लाइन में रह रहे पुलिसकर्मियों को ढंग का खाना और उनके रहने की व्यवस्था की मॉनिटरिंग भी एसपी करेंगे।

डीजीपी आर एस भट्टी ने जिले के एसपी को निर्देश दिया है कि किसी भी तरह की समस्या को सीधे पुलिस मुख्यालय को नहीं जिले के डीआईजी और आईजी को बताएंगे और वहां के जिले के डीआईजी और आईजी मुख्यालय आईजी से संपर्क करेंगे। अगर उन्हें किसी भी तरह की पर्सनल शिकायत हो तो वह खुद मुख्यालय आ सकते हैं, उनके लिए दरवाजा खुला हुआ है।

 366 total views,  3 views today