जनपथ न्यूज डेस्क

Reported by: गौतम सुमन गर्जना/भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
15 सितंबर 2022

भागलपुर : बिहार के भागलपुर जिले से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। गरीब घरों की लड़कियों को यहां से एक गिरोह झांसा देकर दूसरे राज्यों में भेजती थी और फिर दलाल के हाथों उनका सौदा कर लिया करती थी। इसी गिरोह की दो महिलाओं को पुलिस ने पकड़ लिया है।

*गरीब घरों की नाबालिग लड़कियां बनती थी निशाना*
गरीब घरों की नाबालिग लड़कियों को ऐशो आराम की जिंदगी देने, अच्छे घरों में शादी कराने और बड़े शहरों में अच्छी नौकरी दिलाने का सपना दिखाकर भगा ले जाने वाले गिरोह की दो महिला दलालों को घोघा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। ये महिलाएं लड़कियों को नशा खिलाकर दूसरे राज्यों में ले जा‌या करती थीं और वहां उसे दलाल के हाथों मोटी रकम लेकर बेच देती थीं।

*दो महिलाओं पर आरोप*
तीन दिन पहले घोघा थाना में एक नाबालिग के लापता होने की सूचना उसकी मां ने दी। उसने पड़ोस की दो महिलाओं पर बेटी को बहला-फुुसला कर बाहर ले जाने की शिकायत की। पुलिस ने छानबीन शुरू करते हुए दोनों आरोपित महिलाओं के घरों पर दबिश डालनी शुरू कर दी। तब लापता किशोरी नाटकीय अंदाज में 12 सितंबर को घोघा रेलवे स्टेशन के प्लेटफाॅर्म पर मिली।

*बरामद किशोरी ने बताया*
बरामद किशोरी ने घर आकर अपने माता–पिता को सारी बातें बतायीं। इसके बाद परिजनों ने पुलिस के सामने उसका बयान दिलाया। उसके बयान के आधार पर पुलिस ने मिर्जाग्राम गांव की दोनों महिलाओं को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

*शादी कराने का प्रलोभन देकर बुलाया*
लड़की ने आरोप लगाया है कि दोनों महिलाओं ने मुझे अच्छे घरों में शादी कराने का प्रलोभन देकर धोखे से आधार कार्ड लेकर बुलाया। वहां से वह एक ऑटो पर बैठाकर उसे भागलपुर ले गयी। रास्ते में मुझे पानी में नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया, जिससे मैं बेसुध हो गई।

*पुलिस का दबाव पड़ा, तो स्टेशन लाकर छोड़ा*
लड़की ने बताया कि दलालों पर पुलिस का दबाव पड़ा तो मुझे घोघा स्टेशन लाकर छोड़ दिया, तब मैं अपने घर पहुंची। इधर थानाध्यक्ष मो० दिलशाद ने बताया कि लड़की के बयान पर दोनों महिलाओं को गिरफ्तार कर भागलपुर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

5 Views